India’s Biggest

Rural Media Platform

जागरूकता का तामझाम, मतदान प्रतिशत बढ़ाने में रहा नाकाम

जिले में महीनों से चल रहे मतदाता जागरूकता अभियान भी मतदान के प्रतिशत पर कोई खास प्रभाव नहीं डाल सके। बीते विधानसभा चुनाव को देखते हुए इस बार के चुनाव में 0.61 प्रतिशत ही वृद्धि हो सकी।

उन्नाव में आधी आबादी ने दिखाई ताकत, सारा काम छोड़कर पहले डाला वोट

लोकतंत्र के उत्सव में आधी आबादी ने भी अपनी ताकत का अहसास कराया। घरों से निकलकर महिलाआें ने महापर्व में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और मतदान किया। कस्बे के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाआें ने बड़ी संख्या में मताधिकार का प्रयोग किया।

उन्नाव में युवाओं ने डाला वोट, खींची सेल्फी 

लोकतंत्र के पर्व में युवाआें ने भी अपनी सहभागिता दर्ज कराई। बड़ी संख्या में पोलिंग बूथों पर पहुंचे युवा उत्साहित दिखे। राजनीति में अधिक दिलचस्पी न रखने वाले युवा ने मतदान के महत्व को समझते हुए अपना वोट जरूर डाला। ग्रुप में पहुंचे युवाआें ने वोट डालने के साथ ही सेल्फी भी ली और सोशल मीडिया पर भी शेयर किया। मतदान को लेकर उत्साहित युवा सुबह सात बजे से पहले ही मतदान केंद्रों पर पहुंचने लगे थे।

उन्नाव में दिखा महापर्व का महा उल्लास, मतदाता फर्स्ट श्रेणी में पास, रिकार्डतोड़ हुआ मतदान

उन्नाव की छह विधानसभाआें में हुए मतदान ने अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ नया इतिहास रच दिया। मतदाताआें की जागरुकता की वजह से जिला मतदान के मामले में फस्र्ट डिवीजन पास हुआ।

इनके हौसले को सलाम कहिए

उम्र अस्सी साल, चलने में असमर्थ लेकिन बेटे का सहारा लेकर भगवानदीन ने लोकतंत्र के महापर्व में हिस्सा लिया और अपना वोट डाला। भगवानदीन ही नहीं प्रदेश के 12 जिलों में दिव्यांग और बुजुर्ग वोट देने पहुंच रहे हैं।

यूपी चुनावः चुनाव के कारण बाजारों में सन्नाटा, सडक़ें भी रही खाली

रविवार को मतदान के समय शहर के बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। सडक़ें भी पूरी तरह से खाली रही। हर रोज जहां जाम के हालात बनते थे वहां सन्नाटा पसरा रहा। सडक़ों पर सिर्फ वही लोग दिखाई दे रहे थे जो या तो मत डालने जा रहे थे या फिर मतदान करने के बाद वापस घर लौट रहे थे।

यूपी चुनावः पहले मतदान फिर जलपान

लोकतंत्र के महापर्व का हिस्सा बनने को हर कोई बेताब दिखा। युवा से लेकर वृद्ध और शारीरिक रूप से अक्षम लोगों में भी मतदान को लेकर गजब का उत्साह दिखा। मतदान रूपी यज्ञ में अपनी आहुति देने के लिए हर कोई लालायित था।

महापर्व में आधी आबादी ने भी दिखाई ताकत, घरों से निकल कर महिलाएं कर रहीं वोट

लोकतंत्र के उत्सव में आधी आबादी ने भी अपनी ताकत का अहसास कराया। घरों से निकलकर महिलाओं ने महापर्व में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और मतदान किया। कसबे साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाताओं ने बड़ी संख्या में मताधिकार का प्रयोग किया।