India’s Biggest

Rural Media Platform

सैकड़ों किसानों ने छोड़ी आलू की खेती 

जिले के मकसुदंपुर गाँव में वसिष्ट नारायण मिश्रा (55 वर्ष) ने इस बार अपने तीन बीघे के आलू के खेत में अरहर बोई है। एकाएक बढ़ रही जंगली सूकरों की संख्या देखते हुए उन्होंने अरहर की खेती शुरू की है।

लोहिया गाँव में मानक के विपरीत बन रहे शौचालय 

भारत को स्वच्छ बनाने के लिए राज्यों में कई तरह की योजनाएं चल रही हैं। इन्हीं योजनाओं के तहत उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशासन की तरफ से शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है।

लोकल मंडी नहीं, कम दामों में बिक रही दलहनी फसलें 

जिले में राजापुर गाँव के अजय कुमार सिंह (50 वर्ष) ने पांच बीघे खेत में अरहर की खेती की। इस वर्ष अरहर की पैदावार से वो बहुत खुश हैं, लेकिन अच्छी फसल होने के बाद भी दालों की बिक्री के लिए स्थानीय मंडी न होने के कारण वो अपनी फसल दाल व्यापारियों को कम दामों पर बेचने को मजबूर हैं।

बदले मौसम से सब्जियों को हो रहा नुकसान

बीते वर्ष सामान्य मानसून और अब बदलते मौसम के कारण खेतों में नमी होने से मौसम रबी फसलों के लिए अनुकूल हो रहा है। इससे गेहूं, चना उगाने वाले किसानों को अच्छी पैदावार मिलने की संभावना है। हालांकि सब्जियों को एकाएक बदल रहे मौसम से खतरा है।

अधिक पानी की खपत और बीमारियों के कारण पान की खेती छोड़ रहे किसान

सुल्तानपुर जिले के लंभुआ तहसील के बरूआ हरिहरपुर सूरजभान पट्टी ग्राम सभा में एक समय पान की खेती हुआ करती थी। लेकिन पान में रोगों के डर से अब किसानों ने इसकी खेती करना बंद कर दी है।

अगले केंद्रीय बजट में BJP करेगी सपा सरकार की नकल: मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज कहा कि उनकी सरकार ने अपने चुनाव घोषणापत्र को मुकम्मल तौर पर लागू करके साबित किया है कि समाजवादियों की कथनी और करनी में कोई फर्क नहीं है और आगामी केंद्रीय बजट में भाजपा सपा सरकार की नकल करेगी।

मिट्टी जांच में यूपी फिसड्डी

भारत सरकार की वार्षिक रिपोर्ट 2016 के मुताबिक मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना में यूपी में जमा किए गए कुल 44 लाख मृदा नमूनों में से केवल 18 लाख नमूनों की ही जांच हो पाई है।