India’s Biggest

Rural Media Platform

बदलता इंडिया

डेबिट कार्ड भूल जाइए अब अंगूठे के निशान से कर सकेंगे ऑनलाइन लेन-देन

500 और 2000 के पुराने नोट बंद करने यानि demonetization के बाद केंद्र सरकार नागरिकों को पैसों के ऑनलाइन लेन-देन और भुगतान के लिए प्रोत्साहित कर रही है। इसी दिशा में नए साल से सरकार आधार कार्ड पर आधारित ऐसी भुगतान प्रणाली लाई है जिससे कोई भी व्यक्ति बिना किसी डेबिट कार्ड या पिन नंबर के अंगूठे के निशान से सीधे भुगतान या लेन-देन कर सकेगा।

सरकार का दावा है कि इस प्रक्रिया से ग्रामीणों को भी ऑनलाइन लेन-देन में असानी होगी, क्योंकि इसके लिए स्मार्टफोन की आवश्यकता होनी ज़रूरी नहीं।

भुगतान की इस प्रणाली को नाम दिया गया है Adhar Enabled Payement System (AEPS)। इस प्रणाली से भुगतान के लिए सरकार दो तरह की व्यवस्थाएं करने जा रही है। पहला तो यह कि सरकार डेबिट कार्ड से भुगतान करने वाली छोटी मशीनों की तरह ही एक आधार से भुगतान करने वाली मशीन लाएगी जिसे 'माइक्रो एटीएम' कहा जा रहा है। दूसरी व्यवस्था ये कि सरकार आधार के ज़रिए भुगतान करने की एक एप भी लाने जा रही है।

केंद्र सरकार अपने इस कदम को ऑनलाइन बैंकिंग के क्षेत्र में एक क्रांति बता रही है।

कैसे होगा आधार कार्ड के ज़रिए भुगतान

आधार के ज़रिए भुगतान करने की प्रणाली (AEPS) में एक 'माइक्रो एटीएम' नाम की हाथ में लेकर चलाई जाने वाली एक छोटी मशीन का इस्तेमाल होगा।यह उतने की आकार की होगी जितनी डेबिट कार्ड से भुगतान में इस्तेमाल होने वाली मशीनें होती हैं। बस अंतर इतना ही होगा कि इस मशीन में डेबिट कार्ड वाली मशीन की तरह एटीएम पिन या कार्ड की ज़रूरत नहीं पड़ेगी बल्कि इसमें भुगतानकर्ता के फिंगर प्रिंट के ज़रिए भुगतान किया जाएगा। केंद्र सरकार इस सुविधा को एप के ज़रिए भी दुकानदारों तक पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं।

कैसे काम करती है AEPS एप

दुकानदार को भुगतान प्राप्त करने के लिए अपने फोन पर एक एप खोलनी होगी, इसमें भुगतानकर्ता का आधार नंबर दर्ज करने के बाद आपका बैंक चुना जाएगा, फिर जितने रुपए डेबिट करने हैं वो दर्ज किये जाएंगे। इस प्रक्रिया के बाद भुगतानकर्ता को एप के अंदर दिये गए स्कैनर से अपने अंगूठे के निशान देने होंगे। अंगूठे के निशान पास होते ही पैसा आपके बैंक एकाउंट से दुकानदार को चला जाएगा।