India’s Biggest

Rural Media Platform

यूपी इलेक्शन 2017

झाड़ू लगाने से लेकर अपने पशुओं के लिए खुद चारा काटता है बीजेपी का ये विधायक, देखिए वीडियो

बाराबंकी। जिले के हैदरगढ़ विधानसभा से सपा के पूर्व विधायक राममगन रावत को भारी मतों से हराने वाले बीजेपी विधायक बैजनाथ रावत जनता के बीच काफी लोकप्रिय हैं। बैजनाथ रावत इससे पूर्व में विधायक,सांसद और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री भी रह चुके है, बावजूद इसके इनकी ईमानदारी और व्यवहार में कोई कमी नहीं आई । इस बार उन्हें मंत्री बनाए जाने की भी चर्चा है।

अपने सरल और सीधे स्वाभाव से जनपद में पहचाने जाने वाले ये विधायक आज भी अपने जानवरों की देखभाल खुद करते हैं। अपने जानवरों के लिए खुद चारा काटते हैं। इसके साथ-साथ अपने घर के बाहर खुद झाड़ू लगाते हैं। विधायक के इस सरल व्यवहार के कारण इलाके का हर कोई इनका कायल है। बैजनाथ रावत की ईमानदारी की चर्चा भारत सरकार के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अपने चुनावी मंच से की है। विधायक बनने के बाद भी वो ये सब तो करते रहेंगे, इसके साथ ही वह अब अपने जिले में विकास की गंगा बहाने की बात जरूर कर रहे हैं।

एक विधायक जो झोपड़ी में रहता है

वर्ष 1980 में भाजपा से राजनीति की शुरुआत करने वाले भाजपा विधायक बैजनाथ रावत ने बताया, "1991 में भाजपा के विधायक बनने के बाद मंत्री भी बने, लेकिन उन्हें ज्यादा समय न मिलने की वजह से वो इलाके में ज्यादा विकास कार्य नहीं करवा पाए।" उस समय विधायक निधि भी नहीं थी। उसके बाद वो फिर 1993 में चुनाव जीते और सिर्फ 22 महीने ही विधायक रहे। इस दौरान भी विधायक निधि नहीं थी।

इस दौरान भी ज्यादा समय उन्हें नहीं मिला। उन्होंने बताया कि, जब काम करने का मौक़ा नहीं मिलेगा, कार्यकाल नहीं मिलेगा तो संभव है की कोई प्रस्ताव डालेंगे तो वो चार छह महीने में आगे आता है। लेकिन जब हम हट गए तो जो दूसरे लोग जीते तो उन्होंने हमारा प्रस्ताव कैंसिल कर दिया गया। उन्होंने कहा दूसरे नेताओं ने हमारे इलाके में विकास नहीं करवाया।

पशुओं का चारा-पानी आज भी खुद करते हैं बाराबंकी में हैदरगढ़ से बीजेपी विधायक बैजनाथ रावत।

वहीं गाँव के भोलाशंकर ने बताया, "ये ऐसे नेता हैं जिनको बूढ़े बुजुर्ग और बच्चे भी बहुत करीब से जानते हैं।" इसी गांव के आशुतोष सिंह का कहना है।'' बैजनाथ रावत ऐसे नेता हैं जिनके घर के बाहर आज भी प्लास्टर नहीं लगा है।" वहीं भोलाशंकर का कहना है," प्रदेश के सभी नेता यदि ऐसे हो जाए तो हमारे प्रदेश की तस्वीर बदल जाए।"