देश को स्मार्ट शहरों की नही स्मार्ट गाँवों की जरूरत है

Vinay GuptaVinay Gupta   15 Feb 2016 5:30 AM GMT

देश को स्मार्ट शहरों की नही स्मार्ट गाँवों की जरूरत हैgaon connection, गाँव कनेक्शन, kisan manch, lucknow

लखनऊ। ज़िले में बुधवार 17 फरवरी को शहीद स्मारक पर 'किसान अधिकार दिवस' का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पूर्व केन्द्रीय मंत्री कमल मोराकर, पूर्व सांसद संतोष भारतीय व किसान मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सिंह शामिल होंगे। किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष शेखर दीक्षित ने इसकी जानकारी दी।

शेखर दीक्षित ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि आज जब देश का किसान बदहाली से गुजर रहा है तो केन्द्र व राज्य की सरकारें धर्म व जाति पर राजनीति कर रही हैं। तब यह आवश्यक हो जाता है कि किसान अपने अधिकारों के लिए संगठित होना व लड़ना सीखे। उन्होंने आगे कहा कि देश को स्मार्ट शहरों की नही स्मार्ट गाॅवों की जररूरत है। ग्रामीण संस्कृति व उनको संजोकर रखने के इस उद्देश्य के साथ किसान मंच उत्तर प्रदेश में इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। आज किसानों के साथ सभी को खड़े होने की आवश्यकता है और यही सच्चा देश प्रेम भी है

कार्यक्रम में लेखक व निर्देशक अनिल ‘गुरु’ के लधु नाटक ‘दास्ता किसानो की' का मंचन किया जाएगाकार्यक्रम में कृषि जगत एवं सामाजिक विषयों पर आधारित हिन्दी मासिक पत्रिका ‘किसान सत्ता’ का विमोचन किया जायेंगा। इसके अलावा किसान अधिकारों के लिए किसान मंच का प्रस्ताव एवं घोषणा पत्र का कार्यक्रम होगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top