जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री सईद का निधन

जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री सईद का निधनगाँव कनेक्शन

लखनऊ। पीडीपी के संरक्षक मुफ्ती मोहम्मद सईद का आज 79 साल की उम्र में निधन हो गया। पीडीपी के संरक्षक मुफ्ती मोहम्मद सईद जम्मू-कश्मीर के 12वें मुख्यमंत्री थे।

अपनी बेटी महबूबा मुफ्ती के साथ 1999 में खुद की पार्टी पीडीपी का गठन किया। सईद ने जम्मू-कश्मीर प्रदेश की सियासत के साथ ही केंद्र की राजनीति में भी अहम जिम्मेदारी निभाई।

साल 1950 के दशक में वो जीएम सादिक की कमान में डेमोक्रेटिक नेशनल कॉन्फ्रेंस के सदस्य भी रहे। नेशनल कांफ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला की तरह गोल्फ प्रेमी सईद ने अपनी पार्टी के गठन के तीन साल के भीतर ही कांग्रेस के समर्थन से प्रदेश में अपनी सरकार बनाई थी। हालांकि, 2008 के विधानसभा चुनाव में वो हार गए और उमर अब्दुल्ला ने राज्य में अपनी पार्टी को जीत दिलाई।

12 जनवरी 1936 को अनंतनाग जिले के बिजबेहरा में पैदा हुए सईद श्रीनगर के एस पी कॉलेज और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र रहे हैं जहां से उन्होंने कानून और अरब इतिहास में डिग्री हासिल की थी। सईद ने 1962 में अपने जन्मस्थान से डीएनसी की कमान में चुनाव जीत कर चुनावी सफर की शुरुआत की थी। उन्होंने 1967 में भी इसी सीट से जीत हासिल की, जिसके बाद सादिक ने उन्हें उपमंत्री बनाया।

1972 में वो कैबिनेट मंत्री बने और विधान परिषद में कांग्रेस के नेता भी, 1975 में उन्हें कांग्रेस विधायक दल का नेता और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया, लेकिन वो अगले दो चुनाव हार गए। 

1986 में केंद्र में राजीव गांधी की सरकार में बतौर कैबिनेट मंत्री पर्यटन के रूप में शामिल होने वाले सईद ने एक साल बाद मेरठ दंगों से निपटने में कांग्रेस के तौर-तरीकों का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top