‘तालाबों के संरक्षण से बड़ा पुण्य कोई नहीं’

‘तालाबों के संरक्षण से बड़ा पुण्य कोई नहीं’gaoconnection

बांदा। “तालाबों के संरक्षण और पेड़ लगाने से बड़ा कोई पुण्य काम नहीं है। इस गाँवों के लोगों ने पानी को सहेजकर सराहनीय काम किया है।” आयुक्त चित्रकूट मंडल एल, वेंकटेश्वर लू ने मंगलवार को जखनी में जल ग्राम घोषित होने पर अपने अभिनंदन समारोह में ये बात कही।

कार्यक्रम के अध्यक्ष जिलाधिकारी योगेश कुमार और सीडीओ समेत कई अधिकारियों को ग्रामीणों ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। आयुक्त ने ग्रामीणों के समन्वित प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि सबने मिलकर चार तालाबों में पानी संरक्षित किया है, जो दो तालाब और हैं, उनमें भी जल संरक्षित करें। उन्होंने कहा कि चित्रकूटधाम मण्डल के सभी नागरिकों को इससे प्रेरणा लेकर अपने-अपने ग्रामों में पानी को रोकने का काम आज समय की आवश्यकता है। आयुक्त ने कहा कि धनवान एवं क्षमतावान व्यक्ति ऐेसे पुण्य के कार्यों को करने के लिए आगे आएं। उन्होंने कहा कि इस ग्राम में काफी पेड़ लगे हैं, लेकिन और पेड़ लगाने चाहिए। उन्होंने कहा कि भगवान अहंकार से नफरत करते हैं, इसलिये पवित्र मन से दान कर तालाबों के संरक्षण एवं प्रेम व भाईचारा बढ़ाने की गोष्ठियां कराकर व्यक्ति को व्यक्ति से जोड़ने का काम हर गाँव में होना चाहिए।

जिलाधिकारी योगेश कुमार ने कहा, “सब मिलकर टीम भावना से काम करेंगे तो हर क्षेत्र में सफलता तय है, उन्होंने श्रम विभाग की योजनाओं में हर पात्र व्यक्ति को लाभ दिलाने का आश्वासन दिया।” जिलाधिकारी ने कहा कि युवाओं को कौशल विकास मिशन के तहत प्रशिक्षण देकर बैंकों से ऋण दिलाकर रोजगार से जोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि नरैनी क्षेत्र में प्लांट की स्थापना होने से अधिक से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top