14 अप्रैल से किसानों के लिए शुरू होगा ऑनलाइन कृषि बाजार

14 अप्रैल से किसानों के लिए शुरू होगा ऑनलाइन कृषि बाजारगाँव कनेक्शन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस हफ्ते ऑनलाइन राष्ट्रीय कृषि उत्पाद बाजार मंच की शुरुआत करने जा रहे हैं। ये देश भर के 585 थोक बाजारों को एक साथ जोड़ेगा। कृषि उत्पादों के विपणन के लिए ई-प्लेटफॉर्म की पेशकश किसानों को अपने उत्पाद बेचने के लिए अधिक विकल्प मुहैया कराने के मकसद के साथ की जा रही है। ये 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना करने की रूपरेखा का हिस्सा है।

कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने मंगलवार कहा, ''प्रधानमंत्री कृषि उत्पादों के विपणन के लिए इस ई-प्लेटफॉर्म की 14 अप्रैल को पेशकश करेंगे। इसे इस वर्ष सितंबर तक 200 मंडियों में शुरू किया जाएगा। पिछले साल जुलाई में मंत्रिमंडल ने 200 करोड़ रुपये के बजट के साथ एक ऑनलाइन राष्ट्रीय कृषि बाजार की स्थापना को मंजूरी दी थी।''

फिलहाल सिर्फ मंडियों में बेचने की सुविधा

अभी किसान सिर्फ़ मंडियों में ही अपने उत्पादों को बेच सकते हैं जो विभिन्न करों को लगाती हैं। ऑनलाइन कृषि बाजार से उम्मीद है कि इससे किसानों को अपने उत्पाद हाजिर मंडियों या ऑनलाइन प्लेटफॉर्म दोनों जगहों पर बेचने की सुविधा मिलेगी।

कृषि मंत्री ने कहा कि ऑनलाइन व्यापार तक आसानी से पहुंच के कारण किसानों की आय बढ़ेगी, बाजार में उत्पादों की बेहतर उपलब्धता होगी और कीमतों में नरमी रहेगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top