2017 में जीते तो राष्ट्रीय राजनीति का रास्ता खुलेगा: अखिलेश यादव

2017 में जीते तो राष्ट्रीय राजनीति का रास्ता खुलेगा: अखिलेश यादव2017 में जीते तो राष्ट्रीय राजनीति का रास्ता खुलेगा: अखिलेश यादव

लखऩऊ। समाजवादी पार्टी की सरकार देश अकेली ऐसी सरकार है जो सिद्धांतों पर काम कर रही है। हमने कम समय में सबसे ज्यादा और अलग काम किए हैं। अगर हम 2017 में पास हुए तो देश में हमारे लिए रास्ता खुलेगा। अपनी सरकार की खूबियां गिनाते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को ये बातें लखनऊ में कहीं।

मुख्यमंत्री गोमती नगर के जनेश्वर मिश्र पार्क में प्रखर समाजवादी चिंतक जनेश्वर मिश्रा की 84वीं जयंती पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने छोटे लोहिया के नाम से मशहूर जनेश्वर मिश्र की मूर्ति पर माल्यापर्ण के बाद कहा कि वो कभी किसी आंदोलन से पीछे नहीं हटे। सिद्धांतों से नहीं हटे। सत्ता में समाजवादी न आये होते तो ये पार्क न होता। समाजवादी पार्टी देश में सिद्धांतों पर चलने वाली देश की अकेली सरकार है।

बुलंदशहर गैंगरेप पर मुख्यमंत्री ने कहा, ''लोग घटना पर राजनीति करते हैं हम कड़ी कार्रवाई कर रहे हैं। लोगों को SP और BSP सरकार में अंतर साफ दिख रहा है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने बिना नाम लिए बीजेपी और मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा जो लोग सपने दिखाकर सत्ता में आए हैं उनके सामने अब परेशानियां हैं। वो अब चुनाव में जनता के सामने कैसे जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने मिशन 2017 के लिए कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए माना कि माना कि आने वाले समय में सरकार और पार्टी की बड़ी परीक्षा है। उन्होंने कहा कि अगर अगली परीक्षा में पास हुए तो देश में हमारा रास्ता खुलेगा। हमको दोबारा सत्ता में आना होगा। 

अपनी महत्वाकांक्षी योजनाओं का फायदा गिनाते हुए CM ने कहा कि समाजवादी पार्टी सरकार पेंशन के तौर पर 500 रुपये सीधे लोगों के अकाउंट में पहुंच रही है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से सबका फायदा होगा। समारोह में प्रदेश भर से आए समाजवादी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि SP सरकार ने कम समय में ज्यादा और अलग हटकर काम किया है। ताकि प्रदेश का भला हो सके। हमने बिना भेदभाव छोड़कर सबके लिए काम किए हैं। लखनऊ में जितने काम हुए उतने पहले कभी नहीं हुए। लखनऊ को सजाने-संवारने के साथ कैंसर तक के इलाज का यहां इंतजाम किया है।

(रिपोर्ट-ऋषि मिश्र)

Tags:    India 
Share it
Top