भोजपुरी सुपरस्टार रवि किशन ने कहा, किसान का बेटा हूं, गेहूं तक काट चुका हूं, जीता तो गाँव में खोलूंगा रंगमंच

फिल्मों के बाद राजनीति में आने वाले गोरखपुर लोकसभा के भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी सुपर स्टार रवि किशन ने कहा, मैं मोदी और योगी के बुलाने पर भाजपा में शामिल हुआ हूं

Chandrakant MishraChandrakant Mishra   3 May 2019 6:41 AM GMT

फिल्मों में काम करने के बाद राजनीति में किस्मत आजमाने वाले भोजपुरी सुपर स्टार रवि किशन को भाजपा ने यूपी के गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र से मैदान में उतारा है। गाँव कनेक्शन के संवाददाता चन्द्रकान्त मिश्रा ने रवि किशन से खास बातचीत की

फिल्मों के बाद राजनीति में आने को लेकर रवि किशन ने कहा, " मैं अब तक करीब 600 फिल्मों में काम कर चुका हूं। हिंदी, भोजपुरी, मराठी और साउथ कि फिल्मों में मैंने काम किया है। मोदी और योगी जी के बुलाने पर मैं भाजपा में शामिल हुआ हूं। योगी जी ने मुझसे कहा, फिल्मों में बहुत काम कर चुके हो अब चलो लोगों की सेवा करो। मैं उन्हीं के कहने पर गोरखपुर आया हूं। मुझे पूरा यकीन है कि गोरखपुर की जनता मुझे एक बार सेवा का मौका जरूर देगी। "

गोरखपुर के लोगों को कितना प्यार मिल रहा है, इस सवाल पर रवि ने कहा, " गोरखपुर की जनता का मुझे बेहद प्यार मिल रहा है। जहां जाता हूं लोग बहुत गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। जन सैलाब उमड़ पड़ा है। इस बार हमारी जीत पक्की है। गोरखपुर और पूर्वांचल की जनता ने ही मुझे सुपरस्टार बनाया। जनता ने जैसा अब तक मुझे प्यार दिया है उसी उम्मीद के सहारे में गोरखपुर आया हूं। जिस तरह से पूज्य योगी महराज को यहां की जनता ने प्यार और आशीर्वाद दिया है उसी तरह मुझे भी मिल रहा है।"

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Elections 2019: अभिनेता सनी देओल ने गुरदासपुर से भरा पर्चा


उपचुनाव में भाजपा को मिली हार और इस बार क्या तैयारी है इस पर उन्होंने कहा, " इस बार हम लोग बूथ लेवल पर कोई कोताही नहीं बरत रहे हैं। इस वक्त हमारा कार्यकर्ता पांच लेवल पर काम कर रहा है। मैं व्यक्तिगत रूप से पांच विधानसभा क्षेत्रों में करीब छह लाख लोगों से मिल चुका हूं। हम आराम नहीं कर रहे हैं। लोगों और कार्यकर्ताओं में अपार उत्साह है। पूरा संगठन जुटा है, पूरी हिंदू युवा वाहिनी जुटी हुई है। हम लोग हर गाँव जा हरे हैं, हर मोहल्ले जा रहे हैं। इस बार हम लोग कोई गलती नहीं करेंगे। पिछली बार थोड़ी सी गलती हो गई थी। "

ये भी पढ़ेंं: Exclusive Interview: हमें पछतावा है कि मोदी के लिए कैंपेन किया- पूनम सिन्हा


बाहरी होने के सवाल पर कहा, " हमको योगी जी और बाबा गोरक्षनाथ ने बुलाया है। जैसे मां गंगा ने मोदी जी को बुलाया था, उसी तरह मुझे यहां बुलाया गया है। मैं शिव भक्त हूं। महादेव की कृपा रही और मैं यहां गा गया। वैसे मेरे पूर्वज यहीं मामखोर के रहने वाले थे। यहां से वह जौनपुर चले गए थे। मैं यहीं का रहने वाला हूं। एक बार फिर घर वापसी हुई है। मैंने यहां घर भी खरीद लिया है। चुनाव के बाद यहीं स्टूडियो बनेगा और यहीं फिल्मों की शूटिंग होगी और मैं जनता की सेवा करता रहूंगा। "

ये भी पढ़ें: राहुल ने कहा- 22 लाख नौकरियां खाली पड़ी हैं, हम इन्‍हें युवाओं को देंगे

सांसद चुनने के बाद गोरखपुर के युवाओं के लिए क्या योजना है इस सवाल पर कहा, " युवाओं के लिए यहां बहुत भविष्य है। एक तो फिल्म स्टूडियो, जिससे एक लाख लोगों को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। दूसरा हम सोच रहे हैं गाँव-गाँव रंगमंच लगाएं, क्योंकि सभी बच्चे डॉक्टर-इंजीनियर तो बन नहीं सकते। बहुत सारी विधाएं है कला में, पेटिंग में जिससे आप दो रुपया कमा सकते हैं। यहां के लोग कला को बहुत प्रेम करते हैं। दूसरा हम चाहते हैं कि यहां थोड़ी-थोड़ी दूर पर जिम खुले, जिससे यहां के युवा नशे की जगह शरीर बनाने में अपनी ताकत लगाएं। यहां पर मुझे रोजगार के बहुत सारे अवसर दिखाई दे रहे हैं। यहां पर महराज जी ने लाया है तो अच्छा कार्य करने के लिए ही लाया है।


वर्ष 2014 में कांग्रेस से और अब भाजपा से, इसके पीछे क्या वजह रही। इस सवाल के जवाब में कहा, " मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्यक्तित्व से प्रभावित होकर भाजपा में आया हूं। मोदी की सोच और उनकी कार्यशैली ने मुझे भाजपा ज्वाइन करने के लिए विवश कर दिया। मेरा गाँव बहुत पिछड़े क्षेत्र में है।वहां आज तक सड़क नहीं बनी थी। पहली बार योगी जी ने वहां सड़क बनवाई है। यह सब बातें मुझे बहुत अच्छी लगीं। मोदी जी ने गाँव-गाँव में शौचालय बनवा दिया। यह बहुत बड़ी बात है। "

ये भी पढ़ें: भाजपा को हराने के बजाय उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव जीतने पर है कांग्रेस की नजर : अखिलेश


गाँव से कितना जुड़ाव रखते हैं, इस पर कहां, " मैं गाँव का बेटा हूं। खाटी गाँव वाला हूं। मेरे माता-पिता अभी गाँव में रहते हैं। मैं रोज उनसे बात करता हूं। मेरा गाँव कनेक्शन बचपन से है और हमेशा रहेगा। मैं गाँव से जुड़ा हुआ लड़का हूं। मैं गाँव और किसान के बारे में सोचता हूं, क्योंकि मैं किसान का बेटा हूं। गाँव में मैंने खेत भी खरीद लिया है। वहीं पर खेती भी करता हूं। बचपन में गेहूं की कटाई भी करता था। मैं गाँव के बिना नहीं रह सकता। देश में क्या माहौल है यह गाँव में ही पता चलता है। "

ये भी पढ़ें: राहुल को तेजस्‍वी ने बताया अगला पीएम, बोले- हमें राहुल जैसा प्रधानमंत्री चाहिए


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top