अपने पिछले वादों पर एक शब्द भी नहीं बोल पा रहे मोदी: राहुल गांधी

अपने पिछले वादों पर एक शब्द भी नहीं बोल पा रहे मोदी: राहुल गांधी

लखनऊ। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह इस बार वर्ष 2014 में किए गए अपने वादों के बारे में एक शब्द भी नहीं बोल पा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में आयोजित एक चुनावी रैली में राहुल ने कहा, "मजबूत नेता वह होता है जो अपनी गलतियों को स्वीकार करके उनके लिए माफी मांग ले।"

सुल्तानपुर से कांग्रेस उम्मीदवार संजय सिंह के समर्थन में आयोजित एक जनसभा में राहुल ने कहा कि ''अगर मोदी में दम होता तो वह स्वीकार करते कि उन्होंने 2014 में जोश में आकर हर साल दो करोड़ रोजगार देने की बात कही थी। मगर इस व्यक्ति में दम नहीं है। पूरा हिन्दुस्तान समझ गया है कि इस चौकीदार ने अम्बानी, नीरव मोदी, विजय माल्या और मेहुल चोकसी की चौकीदारी की है। इन्होंने पूरा देश बेच दिया।''

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने मोदी जी से संसद में राफेल खरीद मामले पर चार सवाल पूछे थे, मगर वह नजरें तक नहीं मिला सके। उन्होंने कहा, "मजबूत नेता वह होता है जो सच्चाई को स्वीकार कर लेता है। मजबूत नेता वह होता है जिसने अगर हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने और 15—15 लाख रुपये देने का वादा किया था, मगर नहीं पूरा कर पाया तो उसके लिये माफी मांगकर गलती सुधारने की बात कहे।"

सर्जिकल स्ट्राइक पर हो रहे राजनीतिक प्रयोग पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "यूपीए के शासनकाल में छह सर्जिकल स्ट्राइक हुई थीं। उसमें देश के जवानों ने खून दिया था। कांग्रेस ने कभी इसका राजनीतिक इस्तेमाल नहीं किया और ना ही वह अब इस बारे में कुछ कहना चाहते हैं। वह इसका श्रेय सिर्फ सेना को देते हैं, तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को नहीं। सेना किसी की जागीर नहीं होती।" राहुल ने कहा कि भारत की विचारधारा प्रेम की भावना से ओतप्रोत है। मगर भाजपा के लोग लड़ाई की बात करते हैं।



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top