आईआईटी की फीस में दोगुने से भी ज्यादा का इज़ाफ़ा

आईआईटी की फीस में दोगुने से भी ज्यादा का इज़ाफ़ाgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान आईआईटी के स्नातक पाठ्यक्रमों की सालाना फीस आने वाले सेशन के लिए मौजूदा 90 हजार रुपये बढ़ाकर दो लाख कर दी गई है। लेकिन अनुसूचित जाति, जनजाति, भिन्न रूप से सक्षम और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों की फीस माफ कर दी गई है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि आईआईटी पैनल के प्रस्ताव के मद्देनज़र एचआरडी मंत्रालय ने फ़ीस बढ़ाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने आईआईटी के स्नातक पाठ्यक्रमों की फीस को वर्तमान 90 हजार रुपये से बढ़ाकर दो लाख रुपये करने का फ़ैसला किया है। ऐसे छात्र जिनकी सालाना पारिवारिक आय एक लाख रुपये से से कम है, उन्हें फीस में पूरी छूट दी जायेगी। इसके अलावा अनुसूचित जाति, जनजाति और भिन्न रूप से सक्षम छात्रों को फीस में शत प्रतिशत छूट मिलेगी। पिछले महीने आईआईटी परिषद ने वार्षिक फीस में तीन गुणा इज़ाफ़ा करने की सिफारिश की थी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top