आईजी से दबंग तक: ताक़त दिखाना इनसे सीखिए

आईजी से दबंग तक: ताक़त दिखाना इनसे सीखिएगाँव कनेक्शन

लखनऊ। मनरेगा में काम कर के अंधे पति का पेट पालने वाली एक निरक्षर महिला को लालच देकर दबंगों ने धोखे से उसकी ज़मीन हड़प ली। लखनऊ के काकोरी थाना क्षेत्र के हबीबपुर गाँव की रहने वाली रमदासा का आरोप है कि गाँव के दबंगों ने मकान बनवाने के लिए पैसे दिलाने का लालच देकर सादे कागज पर अंगूठा लगवा लिया।

इस दंपती को ठगे जाने का पता तब चला जब गाँव के दबंग राजू ने उसकी ज़मीन पर अपना मकान बनवाना शुरु कर दिया। “पति रामराज की कुछ साल पहले बीमारी में आंखों की रोशनी चली गई थी। 16 मई, 2016 को गाँव के प्रधान चंद्रपाल अपनी गाड़ी में हम दोनों लोगों को बैठाकर संयासी बाग ले गए, जहां पेप्सी पिलाया और मकान बनवाने के    लिए पैसा दिलाने के नाम पर सादे कागजात पर अंगूठे का निशान लगवाया लिया।” रमदासा  ने बताया।19 मई को गाँव का ही राजू पुत्र बद्री प्रसाद ज़मीन पर निर्माण कराने लगा। रमदासा ने जब विरोध किया तो उसने गाली-गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी। 

इसकी शिकायत जब रमदासा ने काकोरी थाने पर की तो पुलिस ने अनसुना कर दिया। अब जमीन के चारों तरफ चहारदीवारी बनाकर दबंगों ने उसमें दरवाजा लगा दिया है।इस बारे में मलिहाबाद के सीओ जावेद खां ने कहा, “मामला पूरी तरह से याद तो नहीं आ रहा है। ऐसा मामला मेरे पास आया था तो मैंने थाने पर बता दिया था। पीड़िता को थाने पर भेजिए, कार्रवाई होगी।” 

वहीं काकोरी के थानाध्यक्ष ने कहा, “मामले की जानकारी मेरे पास नहीं है। पीड़िता को थाने पर भेजिये उसके साथ न्याय होगा।”हालांकि ग्राम प्रधान चंद्रपाल ऐसी किसी भी बात को सिरे से खारिज कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “वह ज़मीन बंजर है। यदि किसी की गलती है तो जांच कराई जाए। जांच में दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाए।” यह पूछने पर कि ‘बंजर जमीन पर चहारदीवारी कैसे बन गई? तो वह जवाब नहीं दे पाए। इसके बाद इसे विरोधियों की चाल बता दी।         

रिपोर्टर - गणेश जी वर्मा

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.