आम के निर्यात को बढ़ावा दे रही केन्द्र सरकार

आम के निर्यात को बढ़ावा दे रही केन्द्र सरकारgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। आमों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका समेत विभिन्न देशों के साथ बातचीत कर रही है।

वाणिज्य और उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि उत्तर भारत की आम की कुछ किस्मों का पहले से ही ऑस्ट्रेलिया को निर्यात किया जाता है, वहीं संबंधित अधिकारी अन्य किस्मों के निर्यात पर भी विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के एक प्रतिनिधिमंडल ने भारत के पश्चिमी और दक्षिणी हिस्सों से इरेडियेटिड आमों के निर्यात के लिए तीन इरेडियेशन केंद्रों के सत्यापन और प्रमाणन के लिए जून में भारत का दौरा किया था।

इरेडियेशन की प्रक्रिया में कोई फल या खाद्य पदार्थ विकिरण की प्रक्रिया से गुजरता है जिसका उद्देश्य उसमें से बैक्टीरिया, कीटों आदि रोगाणुओं को समाप्त करना होता है। सीतारमण ने कहा कि इन सुविधा केंद्रों के प्रमाणन की प्रक्रिया चल रही है।

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के साथ भी बाजार संपर्क के प्रयास चल रहे हैं। दक्षिण कोरिया के कोरांटीन इंसपेक्टर सहारनपुर में वीएचटी (वाष्प उष्मा शोधन) पर ऑन-साइट पूर्व-मंजूरी कार्यक्रम के लिए 11 जून को भारत आए थे। मंत्री ने कहा कि इसी तरह अंगूरों के निर्यात के लिए अमेरिका से आयात जोखिम विश्लेषण को अंतिम रुप दिए जाने का इंतजार है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top