आम की कई किस्मों से पटा फल बाज़ार

आम की कई किस्मों से पटा फल बाज़ारgaon connection

लखनऊ। फल बाज़ार से अब दशहरी जाने को है पर आम खाने के शौकिन लोगों को घबराने की ज़रूरत नहीं है। क्योंकि बाज़ार में अब आम की अन्य किस्में आ गई हैं। जौहरी सफेदा, आम्रपाली, मल्लिका, गिलास, हुश्नआरा, सेंसेशन, राजा बम्बईयां, सुर्खा, नीलम और चीतला आम उपभोक्ताओं को अपनी ओर बरबस खींच रहे हैं। बाजार में ये किस्मी आम 60 से 100 रुपए किलो तक मिल रहे हैं, लेकिन दशहरी की मांग सबसे ज्यादा बनी हुई है।  

बाज़ार में फलों के राजा आम के साथ ही जामुन, फालसा, बड़हल भी बाज़ार की रौनक बढ़ा रहा है। रमज़ान के समाप्त होने के बाद भी बाज़ार में दशहरी की आवक में फर्क नहीं आया है। माल के रनीपारा के बागबान नन्हके सिंह (50 वर्ष) बताते हैं, “मलिहाबादी के साथ लखनऊ आम पट्टी क्षेत्र की दशहरी जुलाई के पहले सप्ताह तक बाज़ार में बनी रहेगी। इसके बाद सहारनपुरी दशहरी बाज़ार में रहेगी।” 

दुबग्गा मंडी के आढ़ती संतोष कुमार (43वर्ष) बताते हैं, “दशहरी आम मंडी में 16-18 सौ रुपए प्रति क्विंटल के भाव बिक रहा है।” मंडी के कारोबारी बाबू अतीक (55 वर्ष) ने बताया कि दशहरी की आवक अभी कुछ दिनों तक ज्यादा रहेगी। हालांकि आवक बढ़ने से यह आम आदमी की पहुंच में बन गई है। वहीं चौसा, लखनऊवा सफेदा, लंगड़ा की भी आवक बढ़ गई है। 

निशातगंज के फल कारोबारी संदीप बताते हैं, “चौसा और 60 रुपए किलो, लखनऊवां सफेदा 40 से 50 रुपए किलो तक बिक रहा है। दशहरी विभिन्न आकार की दशहरी 20 से 40 रुपए किलो तक है।”दूसरे जिलों और राज्यों में बढ़ी किस्मी आमों की मांग दुबग्गा मंडी के आढ़ती संतोष कुमार (43) ने बताया कि दशहरी के साथ ही चौसा, लंगड़ा और लखनऊवां सफेदा दिल्ली और पंजाब भेजा जा रहा है। 

इन किस्मों के आम के साथ इस बार जौहरी सफेदा, अम्रपाली, मल्लिका, गिलास, हुश्नआरा, राजा बम्बईयां, सुर्खा और नीलम की भी दिल्ली, गाजियाबाद, जालंधर, चंड़ीगढ़ गोहाटी, मुम्बई में पसंद किया जा रहा है।  

 रिपोर्टर : सतीश सिंह 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top