आतंकवाद पर राजनाथ सिंह ने लगाई पाकिस्तान की क्लास

आतंकवाद पर राजनाथ सिंह ने लगाई पाकिस्तान की क्लासआतंकवाद के मसले पर राजनाथ सिंह का पाकिस्तान पर करारा वार

इस्लामाबाद/नई दिल्ली। SAARC समिट के लिए पाकिस्तान गए भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान को जमकर आड़े हाथों लिया। राजनाथ सिंह ने कहा, ''आतंकवाद और इसका समर्थन करने वाले देशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।'' गृहमंत्री ने कहा कि आतंकवादियों का शहीदों की तरह महिमामंडन नहीं किया जाना चाहिए। पाकिस्तान में SAARC समिट के दौरान हुई बातचीत पर राजनाथ सिंह शुक्रवार को संसद में अपना बयान देंगे। गुरुवार को SAARC के गृह मंत्रियों की बैठक में राजनाथ ने कहा, ''केवल आतंकवादियों के खिलाफ ही नहीं, बल्कि इसका समर्थन करने वाले संगठनों, व्यक्तियों तथा देशों के खिलाफ भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। आतंकवादी अच्छे और खराब नहीं होते। आतंकवाद बस आतंकवाद है।'' 

कश्मीर में जारी अशांति के बीच भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस्लामाबाद का दौरा किया है। इस अशांति के लिए भारत ने पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया है। पिछले महीने 8 जुलाई को पाकिस्तान समर्थक हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर में हिंसात्मक विरोध-प्रदर्शनों का दौर जारी है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने वानी को शहीद करार दिया था। उन्होंने कहा था कि वa जम्मू कश्मीर की आजादी के लिए शहीद हो गया। इस बीच खबर ये भी आई कि राजनाथ सिंह के इस भाषण को पाकिस्तान के चैनलों पर ब्लैक आउट कर दिया गया। हालांकि भारत ने इन खबरों को गुमराह करने वाला बताया। सरकार के एक सूत्र ने कहा, ''ये दक्षेस की मानक नीति है कि मेजबान देश का सत्रोद्घाटन भाषण प्रसारित करने की ही अनुमति मीडिया को है और वो सार्वजनिक होता है। बाकी कार्यवाही बंद कमरे में होती है ताकि मुद्दों पर स्पष्ट एवं विस्तृत चर्चा की जा सके।''

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top