Top

अब गरीबों की बेटियों के विवाह में मिलेंगे 51 हजार

अब गरीबों की बेटियों के विवाह में मिलेंगे 51 हजारगाँवकनेक्शन

एटा। अब श्रमिकों को बिटिया के हाथ पीले करने में धन की समस्या आड़े नहीं आएगी। श्रमिकों को पुत्री के विवाह के लिए मिलने वाला अनुदान अब ज्यादा मिलेगा। सरकार ने श्रमिकों के कल्याण के लिए पुत्री विवाह अनुदान योजना में बदलाव किया है। अब बिटिया के विवाह के लिए श्रमिक को 51 हजार रुपये मिलेंगे। इसके साथ ही अंतरजातीय विवाह करने पर भी अनुदान मिला करेगा।

प्रमुख सचिव ने उत्तर प्रदेश भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड को योजना में बदलाव कर अधिक से अधिक श्रमिकों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित कर रही है। पिछले दिनों सरकार ने योजनाओं में संशोधन करके श्रमिकों को अधिक से अधिक लाभ देने की कवायद की थी। इसके तहत मेधावी पुरस्कार योजना, दुर्घटना सहायता योजना, अंत्येष्टि सहायता योजना में बदलाव किया गया। अब सरकार ने पुत्री विवाह अनुदान योजना में संशोधन किया है। अब तक योजना के तहत श्रमिकों को पुत्री के विवाह के समय 40 हजार रुपये का भुगतान किया जाता था। इसके तहत सभी अर्हताओं को पूरा करने वाले श्रमिक को योजना का लाभ दिया जाता था। अब शासन से प्राप्त निर्देशों के बाद पुत्री विवाह अनुदान योजना के तहत 51 हजार रुपये दिए जाएंगे। इसके साथ ही अंतरजातीय विवाह करने पर 55 हजार रुपये का अनुदान दिया जाएगा। 

प्रमुख सचिव श्रम डॉ. अनीता भटनागर जैन ने उत्तर प्रदेश भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के सचिव को योजना में संशोधन कर श्रमिकों को लाभ देने के निर्देश दिए हैं। जिला श्रम प्रवर्तन अधिकारी कौशल शुक्ला ने बताया, “योजना में बदलाव हुआ है। बोर्ड से निर्देश मिलने के बाद श्रमिकों को लाभान्वित करेंगे।

सामूहिक विवाह करने पर भी मिलेगी राहत

योजना के तहत अब सामूहिक विवाह कराने पर भी अनुदान मिलेगा। इस स्थिति में कम से कम 11 जोड़े होने पर बोर्ड द्वारा प्रति जोड़ा पांच हजार रुपये का भुगतान किया जाएगा। इसे आयोजन में होने वाले खर्च में शामिल किया जाएगा।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.