गुड़ की कीमतों में बीते सप्ताह रही गिरावट   

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   18 March 2018 1:24 PM GMT

गुड़ की कीमतों में बीते सप्ताह रही गिरावट    गुड़।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के थोक गुड़ बाजार में गुड़ कीमतों में पिछले सप्ताह कमजोरी का रुख रहा। मामूली मांग के बीच पर्याप्त स्टॉक से गुड़ चक्कू की कीमत में गिरावट आई जबकि मामूली कारोबार के बीच गुड़ के अन्य किस्मों की कीमतें पिछले सप्ताहांत के स्तर पर ही बंद हुई।

मुजफ्फरनगर में भी जहां पर्याप्त स्टॉक के बीच मांग की कमी के कारण गुड़ चक्कू की कीमत में गिरावट आई जबकि गुड़ के अन्य किस्मों की कीमतें अपरिवर्तित रुख दर्शाती बंद हुई। कारोबारी गतिविधियों के अभाव में मुरादनगर के गुड़ बाजारों में भी खामोशी का रुख नजर आया।

गुड़ उत्पादन में मुजफ्फरनगर का प्रदेश और देश ही नहीं एशिया में पहला स्थान है।

बाजार सूत्रों ने कहा कि उत्पादक क्षेत्रों से निरंतर आपूर्ति से बढ़ते स्टॉक से मुजफ्फरनगर और दिल्ली में गुड़ चक्कू की कीमतों में गिरावट आई। अन्यत्र गुड़ के अन्य किस्मों की कीमतें सीमित दायरे में घट बढ़ के बाद पिछले सप्ताहांत के बंद स्तर पर ही बनी रहीं।

दिल्ली में गुड़ गुड़ पेड़ी, ढैय्या और शक्कर की कीमतें सप्ताहांत में क्रमश: 2,600-2,700 रुपए, 2,800-2,900 रुपए और 2,900-3,000 रुपए प्रति कुंतल के पूर्व सप्ताहांत के स्तर पर ही अपरिवर्तित रुख दर्शाती बंद हुई।

मुजफ्फरनगर में गुड़ चक्कू की कीमत 50 रुपए की गिरावट के साथ सप्ताहांत में 2,300- 2,500 रुपए प्रति कुंतल पर बंद हुई।

हालांकि गुड़ खुरपा और गुड़ लड्डू की कीमतें मामूली कारोबार के बीच सीमित दायरे में घट बढ़ के बाद क्रमश: 2,100-2,200 रुपए और 2,300-2,400 रुपए प्रति कुंतल पर बगैर किसी बदलाव के पिछले सप्ताहांत के बंद स्तर पर अपरिवर्तित रही।

बीयर निर्माता कंपनियों के मामूली लिवाली समर्थन के कारण गुड़ रस्कट की कीमत भी पूरे सप्ताह 2,000-2,100 रुपए प्रति कुंतल पर अपरिवर्तित बनी रही।

मुरादनगर में गुड़ पेड़ी और गुड़ ढैय्या की कीमतें क्रमश: 2,200-2,300 रुपए और 2,250-2,350 रुपए प्रति कुंतल पर अपरिवर्तित रुख दर्शाती बंद हुई।

एग्री व्यापार से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top