अम्बेडकर की जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा 'एनवायकेएस'

अम्बेडकर की जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा एनवायकेएसगाँव कनेक्शन

इंदौर (भाषा)। खेल और युवा मामलों के केंद्रीय मंत्रालय से सम्बद्ध नेहरु युवा केंद्र संगठन (एनवायकेएस) ने बुद्धवार को कहा कि वह डॉ. बीआर अम्बेडकर की नजदीकी जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा, ताकि संविधान निर्माता के विचारों को नौजवान पीढ़ी तक पहुंचाया जा सके।

एनवायकेएस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने अम्बेडकर की 125 वीं जयंती की पूर्व संध्या पर संवाददाताओं को बताया कि इस केंद्र की स्थापना पर सरकार ने सहमति जता दी है और इसे जल्द ही अंतिम मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

एनवायकेएस उपाध्यक्ष ने कहा, ''देश की एकता और अखंडता को बचाये रखने में अम्बेडकर के विचारों की बड़ी भूमिका है। इसलिये हम चाहते हैं कि उनके विचार ज्यादा से ज्यादा नौजवानों तक पहुंचें। हमने अम्बेडकर के विचारों के प्रसार के लिये 100 युवा क्लबों का गठन भी किया है।''

उन्होंने ने बताया कि एनवायकेएस अम्बेडकर की जन्मस्थली महू से 21 अप्रैल को ‘सामाजिक समरसता जल यात्रा' निकालेगा, जो इसी दिन उज्जैन पहुंचेगी। इस यात्रा में शामिल होने वाले कार्यकर्ता मध्यप्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से लाए जल को उज्जैन में सिंहस्थ मेले की शुरुआत से पहले क्षिप्रा नदी में प्रवाहित करेंगे। यह मेला 22 अप्रैल से शुरु होना है।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ''दिल्ली के जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में देशविरोधी नारेबाजी की घटना के बाद नौजवान समझ चुके हैं कि कन्हैया कुमार जैसे छात्र नेताओं की हकीकत क्या है। नतीजतन ऐसे नेताओं के खिलाफ नौजवान अपनी प्रेरणा से उठ खडे हो रहे हैं।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top