अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान जाने से मना किया

अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान जाने से मना कियाgaonconnection

वॉशिंगटन (भाषा)। अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेताया है कि वो पाकिस्तान में जारी साम्प्रदायिक हमलों समेत आतंकवादी हिंसा के मद्देनज़र वहां की गैरजरुरी यात्रा करने से बचें। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से जुड़ी हालिया यात्रा चेतावनी में ये बात कही है।

इससे पहले पिछले साल 28 अगस्त को ये यात्रा परामर्श जारी किया गया था जिसकी जगह अब ताजा चेतावनी जारी की गई है। विदेश मंत्रालय ने कल कहा, ''पाकिस्तान में साम्प्रदायिक हमलों समेत बड़े स्तर पर आतंकवादी हिंसा जारी है। वहां कई विदेशी एवं स्थानीय आतंकवादी समूह देश भर में अमेरिकी नागरिकों के लिए ख़तरा बने हुए है।''

हालांकि इस्लामाबाद में अमेरिकी दूतावास और कराची स्थित वाणिज्य दूतावास अपने नागरिकों के लिए दूतावास संबंधी सेवा मुहैया करा रहा है। पेशावर वाणिज्य दूतावास अब दूतावास संबंधी सेवाएं उपलब्ध नहीं कराता है और लाहौर में वाणिज्य दूतावास को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान में साम्प्रदायिक हिंसा एक गंभीर खतरा बनी हुई है और पाकिस्तान सरकार ईशनिंदा कानून अब भी लागू कर रही है।

ऐसे में धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय ईशनिंदा के तहत आरोपी बनाए गए हैं और उन्हें निशाना बनाकर हत्याएं की गई हैं। मंत्रालय ने कहा कि सैन्य संस्थानों और हवाईअड्डों समेत कड़ी सुरक्षा वाले प्रतिष्ठानों पर सशस्त्र हमले हुए हैं आतंकवादियों ने कई पाकिस्तानी शहरों में विश्वविद्यालयों, स्कूलों, रैलियों, पूजास्थलों और बड़े बाजारों को भी निशाना बनाया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top