गुजरात के गोसेवा आयोग ने शुरू किया गाय पर्यटन

गुजरात के गोसेवा आयोग ने शुरू किया गाय पर्यटनगोजातीय पालन को प्रोत्साहित और लोकप्रिय बनाने के लिए एक पहल।

अहमदाबाद (भाषा)। एशियाई शेरों के बाद अब गाय भी गुजरात में पर्यटकों को आकर्षित करेंगी। राज्य में गोजातीय पालन को प्रोत्साहित और लोकप्रिय बनाने के लिए अधिकारियों ने एक पहल के तहत गाय पर्यटक परियोजना की शुरुआत की है। गौसेवा आयोग अध्यक्ष वल्लभ कथीरिया ने बताया, गाय पालन और उसके विभिन्न पहलुओं के बारे में जानने में लोगों की रूचि है। गाय पर्यटन, गायों को रखने के आर्थिक लाभों को समझने की दिशा में एक कदम है।

कथीरिया ने कहा, अधिकतर लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है कि हम गोबर एवं गोमूत्र का उपयोग करके जैव-गैस और दवाइयों जैसे बुनियादी उत्पादों का नर्मिाण कर एक अच्छी आय कमा सकते हैं। कथीरिया ने कहा, पयर्टन का मकसद गाय से जुड़े धार्मिक और आर्थिक पहलुओं को जोड़ना है।

यह भी पढ़ें- आज कार के मॉडल से देखते हैं रुतबा , कभी दरवाजे पर गाय-भैंस की संख्या से आंकी जाती थी हैसियत

यह भी पढ़ें- ये हैं भारत की देसी गाय की नस्लें, जिनके बारे में आप शायद ही जानते होंगे

Tags:    cow 
Share it
Top