गोशालाओं के लिए अनुदान बढ़ाएगी राजस्थान सरकार : गहलोत

गोशालाओं के लिए अनुदान बढ़ाएगी राजस्थान सरकार : गहलोत

जयपुर (भाषा)। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार गोशालाओं के लिए अच्छी से अच्छी नयी नीति बनाएगी तथा प्रति पशु देय अनुदान बढ़ाएगी ताकि गोशाला संचालकों को इस काम में कोई परेशानी नहीं हो। उन्होंने कहा कि सूखा प्रभावित जिलों में चारा डिपो खोले जाएंगे।

गहलोत यहां सीतापुरा स्थिति जे.ई.सी.सी में एक दिवसीय राज्य स्तरीय 'गोरक्षा सम्मेलन' को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, 'गोशालाओं को अभी प्रति पशु अभी जो पैसा मिलता है वह काफी कम है। उससे गायों का भला नहीं हो सकता। 16 रुपये और 32 रुपये से किसी गाय या छोटे पशु का पेट नहीं भर सकता इसका एहसास मुझे व मेरी सरकार को भी है।''

यह भी पढ़ें- छुट्टा पशु समस्या: 'यूरिया की तरह गाय के गोबर खाद पर मिले सब्सिडी, गोमूत्र का हो कलेक्शन'

गहलोत ने कहा, 'आप निश्चिंत रहे मैंने विभाग के अधिकारियों से कहा है कि पूरे सोच विचार के बाद कैसे यह राशि इतनी बढाई जाए कि गाय का पेट भर सके। तभी गाय का भला हो सकेगा।'


मुख्यमंत्री ने कहा, ''इस आयोजन से सामने आये सुझावों और विचारों का समावेश करते हुए गोशालाओं के लिए अच्छी से अच्छी नीति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा, गोचर भूमि के लिहाज से प्राथमिकता गोशाला को दी जानी चाहिए। जिन छह सात जिलों में अकाल व सूखा पड़ा है वहां भी हमने चारा डिपो खोलने और गायों के लिए शिविर लगाने का फैसला किया है। जल्द ही यह काम शुरू होगा।''

इसके साथ ही उन्होंने गोशालाओं को स्वावलंबी और आत्मनर्भिर बनाने की बात कही। उन्होंने कहा, "सरकार की एक सीमा होती है। सरकार के साथ जब समाज सहयोग करता है तभी कोई भी योजना ज्यादा कामयाब होगी।''

यह भी पढ़ें- भारत की देसी नस्लों से तैयार हुई हैं विदेशी गाय

Share it
Top