विश्व अंडा दिवस: यूपी में सबसे ज्यादा अंडों का उत्पादन करता है गोरखपुर

विश्व अंडा दिवस: यूपी में सबसे ज्यादा अंडों का उत्पादन करता है गोरखपुर

गोरखपुर। भारत में पोल्ट्री का व्यवसाय बहुत तेजी से बढ़ रहा है। देश के कई राज्यों के किसान छोटे बड़े स्तर पर इसका व्यवसाय कर रहे है। वहीं लेयर मुर्गी फार्मिंग अंडा उत्पादन के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश का गोरखपुर जिला अपनी अलग पहचान बना रहा है।

गोरखपुर में जिले में 90 से भी ज्यादा लेयर मुर्गी फार्म बने हुए है। इसके अलावा अंडे की आपूर्ति के लिए रोजाना छह लाख से ज्यादा अंडा हैदराबाद और हरियाणा से मंगवाया जाता है। गोरखपुर जिले के कोराबार ब्लॉक के पशुचिकित्सक अधिकारी डॉ बी.के सिंह ने बताया, मांग ज्यादा है इसलिए उत्पादन भी ज्यादा है। जिले में कई गाँव ऐसे मिल जाऐंगे जहां पूरा-पूरा गाँव अंडा उत्पादन के लिए फार्म खोला हुआ है। अभी रोजाना में रोजाना आठ से नौ लाख अंडे का उत्पादन हो रहा है। कई राज्यों से अंडा गोरखपुर में आता भी है।लेयर मुर्गी फार्मिंग के लिए सरकार ने भी योजना बनाई हुई है।"

अंडा उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने कुक्कुट विकास नीति 2013 की शुरूआत की थी। इस योजना के तहत दस हजार कामर्शियल लेयर फार्मिंग की यूनिट भी स्थापित की जा सकती है। कुक्कुट विकास नीति 2013 के तहत पहले 30 हजार पक्षियों की कामर्शियल यूनिट संचालित की जाती थी जिसमें मुर्गी पालकों को एक करोड़ 80 लाख रुपए की लागत आती थी, लेकिन अब किसान दस हजार पक्षियों की कामर्शियल यूनिट भी स्थापित कर सकेंगे जिसमें 70 लाख रुपए का खर्चा आएगा। इस योजना से एक लाभार्थी अधिकतम दो यूनिट स्थापित कर सकता है। इसके अलावा बैकयार्ड मुर्गी पालन की भी योजना सरकार चला रही है।


यह भी पढ़ें- यह मुर्गा हर तीन महीने में किसानों को कराता है हजारों की कमाई

गोरखपुर जिले के रायगंज गाँव के श्रीकांत यादव पहले डेयरी का करोबार करते थे। लेकिन दूध के दाम न मिलने से सही न मिलने से उन्होंने डेयरी की बजाय लेयर मुर्गी फार्मिंग शुरू कर दी। आज वो इस व्यवसाय से लाखों की कमाई कर रहे है। श्रीकांत बताते हैं, मेरे पास अभी 1500 अंडा देने वाली मुर्गियां है, जिनसे रोजाना अंडे का उत्पादन हो रहा है। जब शुरू किया था तब 500 मुर्गिया थी। मुनाफा हुआ तो इस और बढ़ाया अभी 3000 करने का लक्ष्य रखा है।"

भारत, चीन और अमरीका के बाद विश्व का सबसे ज्यादा अंडा उत्पादक वाला देश है। वर्ष 2016 में बड़े स्तर पर दिल्ली में विश्व अंडा दिवस का आयोजन किया था। इस कार्यक्रम में केन्द्रीय कृषि एवं किसान मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा था "हमारे देश में देश में अंडे का उत्पादन 83 अरब के करीब है। उन्होंने कहा था कि अंडे उत्पादन तीन गुना बढ़ाने के लिए कई कदम एक साथ उठाने होंगे ताकि देश के बच्चों के स्वास्थ्य और पोल्ट्री किसान दोनों को फायदा हो। उन्होंने यह भी बताया था कि भारत सरकार राष्ट्रीय पशुधन मिशन के माध्यम से मुर्गीपालन को बढ़ावा दे रही है। ग्रामीण इलाके मे घरों के पीछे बीपीएल परिवारों को मुर्गी पालन के लिए आर्थिक मदद दी जा रही है।"


बहुत कम लागत से शुरू होने वाला यह व्यवसाय लाखों-करोड़ों का मुनाफा दे सकता है। गोरखपुर जिले के रायगंज गाँव के फज्जू खान पिछले कई वर्षों से लेयर मुर्गी फार्म चला रहे है। फज्जू बताते हैं, "देखते ही देखते हमारे गाँव में कई लोगों ने फार्म खोला है। अंडा को बेचने के लिए बाजार तक भी नहीं जाना पड़ता है फार्म से ही अंडा बिक जाता है।"

यह भी पढ़ें- इस गांव के युवाओं ने परंपरागत खेती छोड़ शुरू की लेयर फार्मिंग, हर महीने कमा रहे लाखों

फज्जू आगे बताते हैं, अगर कोई इस व्यवसाय को शुरू भी करता है तो एक वर्ष में पूरी लागत निकल भी आती है और किसान फायदे में रहता है।"

गोरखपुर जिले में एक ऐसा गाँव भी है जहां सबसे ज्यादा लेयर मुर्गी फार्म खुला हुआ है। जिले के सरदारनगर विकासखंड के जगदीशपुर गांव 28 से ज्यादा फार्म खुल चुके हैं और इन फार्म को खोलने के लिए सबसे ज्यादा युवा वर्ग आगे है। इस गांव के युवाओं ने परंपरागत खेती छोड़ लेयर मुर्गी फर्मिंग का व्यवसाय शुरू किया है।

Share it
Top