अनंतनाग को छोड़कर, कश्मीर के सभी हिस्सों से कर्फ्यू हटाया गया

अनंतनाग को छोड़कर, कश्मीर के सभी हिस्सों से कर्फ्यू हटाया गयाgaonconnection

श्रीनगर (भाषा)। घाटी में 17 दिनों की अशांति के बाद मंगलवार अनंतनाग कस्बे को छोड़कर कश्मीर के सभी हिस्सों से कर्फ्यू हटा लिया गया। हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद हुए संघर्षों में 47 लोगों की मौत हो गई और 5,500 अन्य घायल हुए थे।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, “अनंतनाग शहर को छोड़कर मंगलवार कश्मीर के सभी हिस्सों से कर्फ्यू हटा लिया गया।” अधिकारी ने बताया कि जिले में कोई कर्फ्यू या लोगों की गतिविधियों पर रोक नहीं है। उन्होंने कहा, “हालांकि, कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए घाटी के अन्य हिस्सों में चार या उससे अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध जारी रहेगा।” वानी के मारे जाने के एक दिन बाद एहतियातन नौ जुलाई को समूचे कश्मीर में कर्फ्यू लगा दिया गया था।

प्रदर्शनकारियों एवं सुरक्षाबलों के बीच हुए हिंसक संघर्षों में दो पुलिसकर्मियों सहित 47 लोगों की मौत हो गई और 5,500 लोग घायल हुए। मोबाइल टेलीफोन, मोबाइल इंटरनेट सेवा और ट्रेन सेवाएं 18वें दिन भी ठप रहीं, जबकि अलगाववादी समूहों द्वारा आहूत हड़ताल के कारण स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक प्रतिष्ठान भी बंद रहे।

विरोध प्रदर्शनों की अगुवाई कर रहा अलगाववादी खेमा पहले ही अपराह्न दो बजे के बाद से हड़ताल में ढील की घोषणा कर चुका है। बहरहाल, उन्होंने सोमवार से 29 जुलाई तक तीन दिवसीय बंद का आह्वान किया है। अलगाववादी समूहों ने सोमवार कुलगाम तक मार्च निकालने का भी आह्वान किया है।

वानी की मौत की स्वतंत्र जांच कराई जाए: पाकिस्तान

न्यूयार्क (भाषा)। भारत को और उकसाते हुये पाकिस्तान ने हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मुठभेड़ में मारे जाने को ‘न्यायेतर हत्या’ करार देते हुए मामले में स्वतंत्र जांच की मांग की है और दावा किया कि ‘जनमत संग्रह’ से इंकार घाटी में कश्मीरी लोगों के भड़कने का कारण था। लोधी ने वानी के मारे जाने और प्रदर्शनों की स्वतंत्र जांच की मांग की।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र के विभिन्न मंचों पर कश्मीर मुद्दे को सक्रिय रूप से उठाता रहा है। लोधी ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से कश्मीर पर अपना प्रस्ताव लागू करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोगों को ‘स्वतंत्र जनमत संग्रह’ के माध्यम से ‘आत्मनिर्णय का अधिकार’ सुरक्षा परिषद के विभिन्न प्रस्तावों में दिया गया था जिससे वंचित करने के कारण हालिया प्रदर्शन हुए जिससे क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के के लिए खतरा उत्पन्न हुआ।

बयान में दावा किया गया है कि कश्मीरी प्रतिनिधिमंडल ने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान के लगातार समर्थन और मुद्दे को उठाने में इसके प्रयासों की सराहना की।

कुपवाड़ा में चार आतंकवादी ढेर, एक पकड़ा गया

श्रीनगर (भाषा)। कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के पास नौगाम सेक्टर में एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने मंगलवार चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया और एक अन्य को जिन्दा पकड़ लिया।

सेना के एक अधिकारी ने कहा, “नौगाम सेक्टर में अभियान के दौरान चार आतंकवादी मारे गये हैं और एक अन्य को जिन्दा पकड़ लिया गया।” उन्होंने बताया कि ये सभी आतंकवादी विदेशी नागरिक थे।

मुठभेड़ स्थल से अंतिम खबर मिलने तक अभियान जारी था।

अधिकारी ने कहा कि अभियान के अभी जारी रहने के कारण यह कहना जल्दबाजी होगा कि यह घुसपैठ की कोशिश थी या नहीं।

उन्होंने कहा, “हमने उनमेें से एक को जिंदा पकड़ा है और उससे कुछ महत्वपूर्ण सूचना मिलने की उम्मीद कर रहे हैं।” 

आतंकवादी की गिरफ्तारी एक बड़ी सफलता

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने मंगलवार कहा कि जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में एक आतंकवादी का पकड़ा जाना सुरक्षा बलों के लिए एक ‘बड़ी सफलता’ है क्योंकि इससे पाकिस्तान की साजिश का खुलासा हो सकेगा।

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, “एक आतंकवादी को जिंदा पकड़ा जाना एक बड़ी सफलता है क्योंकि इससे पाकिस्तान की साजिश का खुलासा हो सकेगा। कुपवाड़ा में आतंकवादी का पकड़ा जाना सुरक्षा बलों के लिए एक बड़ी सफलता है।” सेना के एक अधिकारी ने श्रीनगर में बताया कि कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के नजदीक नौगाम सेक्टर में एक मुठभेड़ के दौरान सुरक्षा बलों ने मंगलवार चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया और एक अन्य को पकड़ लिया। उन्होंने बताया कि सभी आतंकवादी विदेशी नागरिक थे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top