बाराबंकी में भारतीय किसान यूनियन का सरकार के खिलाफ आंदोलन

बाराबंकी में भारतीय किसान यूनियन का सरकार के खिलाफ आंदोलनगाँव कनेक्शन

बाराबंकी। प्रदेश में किसानों की कई समस्याओं को लेकर आज बाराबंकी में भारतीय किसान यूनियन के हजारों किसान कार्यकर्ताओं (टिकैत गुट) ने जिले में जोरदार रैली कर सरकार से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन छेड़ दिया है।

इस जोरदार प्रदर्शन के दौरान भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उसे किसान विरोधी सरकार बताया। राकेश टिकैत ने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव को भी किसान विरोधी बताया। राकेश टिकैत ने वार्ता करने आये जिले के अधिकारीयों को भी मंच से ही भगाने वाले अंदाज में जाने को कह दिया। राकेश टिकैत ने किसानो की समस्याओं को लेकर सरकार द्वारा नज़रअंदाज किए जाने के लिए उन्हें चेतावनी देते हुए कहा कि इसका परिणाम उन्हें पूरे प्रदेश में भुगतना पड़ेगा।

बाराबंकी मुख्यालय जिला गन्ना कार्यालय के मैदान में आयोजित भारतीय किसान यूनियन की किसान रैली में पूर्वांचल के हजारों किसानो का आज हुजूम उमड़ पड़ा है। किसानो के इस जमघट ने जिला प्रशासन के हाथ -पांव फुला दिए। किसान रैली में मुख्य अतिथि के रूप में पधारे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने प्रदेश की सपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए चेतावनी दी कि अगर उनकी समस्याएं जल्द न सुलझाई गईं तो सरकार को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। राकेश टिकैत ने गन्ना किसानो के साथ हो रहे शोषण, बे-मौसम बर्बाद हुयी फसल से तबाह हुए किसानो की समस्याओं को जल्द से जल्द सुलझाने की मांग की।

राकेश टिकैत ने मिल मालिकों को भी चेतावनी देते हुए कहा कि उनके कारखाने बंद कर दिए जाएंगे । शराब की फैक्ट्रियां, डिस्टलरी और पॉवर प्लांट पर भी ताले जड़ दिए जायेंगे।

राकेश टिकैत ने मिल मालिकों और सरकार के बीच सांठ-गांठ का भी आरोप लगाया। राकेश टिकैत ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर किसानो पर कोई कार्यवाई हुयी तो इसके परिणाम उसे पूरे प्रदेश में भुगतने पड़ेंगे।

राकेश टिकैत ने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वह कभी किसान हितैसी थे पर अब वह किसान हितैषी नहीं रहे। अब उनकी चलती भी नहीं है अब सब मॉल काट रहे हैं किसानो की और अब किसी का भी ध्यान नहीं है।

रैली में बात-चीत करने आए जिले के अधिकारीयों को राकेश टिकैत ने मंच से ही भागने वाले अंदाज में कहा कि आप लोग परिसर खाली कर दीजिए, जूते पहनिए और जाइए कोई बात नहीं करनी है।

राकेश टिकैत ने कहा सरकार को जो करना है वह कर ले हम लखनऊ कूच करेंगे। हज़ारों किसानो का हुजूम फ़िलहाल डेरा जमाए हुए अपने नेतृत्व के आदेशों का इंतज़ार कर रहा है। किसानों के इस आंदोलन में लखनऊ मंडल सहित प्रदेश के कई जिलों से हजारों की संख्या में किसान इकट्ठा होकर लगातार विरोध प्रदर्शन कर लखनऊ राजधानी जाने का मन बनाए हुए है।

रिपोर्टर - सतीश कुमार कश्यप

Tags:    India 
Share it
Top