बारिश से किसानों के चेहरों पर खिली मुस्कान

बारिश से किसानों के चेहरों पर खिली मुस्कानगाँव कनेक्शन

लखनऊ/मेरठ। पिछले दिनों हुई छुटपुट बारिश ने सूखे की मार झेल रहे रबी फसल के किसानों के चेहरे खिल गए हैं। यह बारिश किसानों के लिए संजीवनी का काम करेगी। यह बारिश जहां गेहूं की फसल के बढऩे के लिए वरदान साबित होगी वहीं बढ़ी ठंड से तिलहन, आलू व सब्जियों की फसलों को फायदा होगा।

जिला मुख्यालय लखनऊ से 48 किमी दूर माल ब्लाक के रानीपरा गाँव के किसान बुजुर्ग रामनरेश सिंह (80 वर्ष) बताते हैं, ''बारिश होने से हमें काफी लाभ हुआ है, बारिश से हमारी फसल की सिंचाई भी बच गयी है और खेतों में नमी आ गयी है, इससे सर्दी और बढ़ेगी, जो गेहूं और आलू की फसलों को फायदा पहुंचाएगी। गेहूं के साथ आम की भी फसल को बारिश से लाभ मिलेगा, आम के पेड़ में लगने वाला जाला रोग बारिश होने से बह जाता है, जिससे बौर आसानी से निकल आता है।’’

सीतापुर जिले के कृषि विज्ञान केन्द्र कटिया के कृषि वैज्ञानिक डीएस श्रीवास्तव बताते हैं,  ''किसान भाइयों को इस बारिश से काफी लाभ मिलेगा, गेहूं, दलहन, आलू समेत सभी सब्जियों के फसलों के लिए ये बारिश उपयोगी सिद्ध होगी, ये बारिश पाले से सभी फसलों को बचाएगी लेकिन बारिश का पानी खेतों में जमा होने पर खेती को हानि पहुंचा सकता है।’’

वो आगे बताते हैं, ''जहां पर अभी बुवाई हुई है उन सभी फसलों के लिए ये बारिश फायदेमंद है। फूलों व सरसों की खेती के लिए हवा और बारिश नुकसानदायक है, जिन फसलों में कल्ले नहीं निकल रहे थे खासतौर पर सब्जियों और गेहूं में वो अब निकल आएंगे।’’

पश्चिम उत्तर प्रदेश के रबी किसानों के चेहरे पर रौनक देखी जा सकती है। 

मेरठ कृषि विश्वविद्यालय के फसल व मौसम वैज्ञानिक डाक्टर आरएस सेंगर बताते हैं, ''जो ठण्ड दिसंबर में पड़ती थी वो उस वक्त तो पड़ी नहीं जिस के चलते इस इलाके में गेहूं की फसल की बुवाई पिछड़ गई परन्तु अब जो ठण्ड पड़ रही है वो सरसों, गेहूं सहित अन्य दलहन की फसलों के लिए काफी मुफीद है। ’’

कृषि वैज्ञानिक के दिए गए आवश्यक सुझाव 

1. ज्यादा मात्रा में बारिश होने पर खेतों में पानी जमा न होने दें।

2. बादल होने से दिन में तापमान 16 डिग्री के आस-पास रहता है, जिससे आलू तथा टमाटर में कीटनाशक व फफंूदीनाशक का हल्का छिड़काव करें सब्जियों की फसलों में फफूंद रोग हो सकता है। 

3. फफूंद से फसलों को बचाने के लिए मौसम खुलने पर नीम आयल और कारबंडाजीन का छिड़काव करें।

रिपोर्टर - रिपोर्टर - अविनाश सिंह

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top