ग्रामीण क्षेत्रों में बैंक मित्र बनकर आप भी कमा सकते हैं पैसा, ऐसे बने बैंक मित्र

Karan Pal SinghKaran Pal Singh   4 Dec 2017 2:34 PM GMT

ग्रामीण क्षेत्रों में बैंक मित्र बनकर आप भी कमा सकते हैं पैसा, ऐसे बने बैंक मित्रलखनऊ के गोसाइगंज गाँव में बैंक मित्र से पैसे का लेने-देन करतीं महिलाएं। फोटो : विनय गुप्ता

लखनऊ। आप चाहे युवा हों या रिटायर्ड कर्मचारी, यदि आप भी पैसा कमाना चाहते हैं, तो बैंक मित्र की नौकरी आपके लिए बेहतरीन अवसर है। इसमें प्रधानमंत्री जन-धन योजना से जुड़कर यानी बैंक मित्र बनकर आप पैसा कमा सकते हैं। बैंक मित्र यानी बैंकिंग कॉरस्पॉन्डेंट वे लोग होते हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री जन-धन योजना के अंतर्गत बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध करवाने का ज़िम्मा दिया गया है।

कौन होते हैं बैंक मित्र

देश के सभी बैंक गाँव-गाँव तक अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए बैंक मित्र बना रहे हैं। ख़ासतौर पर ये लोग उन जगहों पर कार्य करते हैं, जिन जगहों पर न तो किसी बैंक की शाखा है और न ही कोई एटीएम। ऐसे में ये लोग आम ज़रूरतमंदों तक पहुंचकर प्रधानमंत्री योजना से संबंधित जानकारी से लेकर आपको धन राशि पहुंचाने तक का काम करते हैं।

ये भी पढ़ें:- ट्रांसफार्मर फुंका हो या टूटा हो तार , इन नंबर पर बिजली विभाग से करें शिकायत

बैंक मित्रों का क्या होता है कार्य

प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत बचत और दूसरी सुविधाओं के बारे में लोगों को शिक्षित करना और जागरूकता फैलाना। सेविंग्स और लोन से संबंधित बातों के बारे में जानकारी और सलाह देना। ग्राहकों की पहचान करना। प्राथमिक जानकारी, आंकड़े इकट्ठा करना, फॉर्म को संभालकर रखना। लोगों द्वारा दी गई जानकारी को चेक करना। खातेदार द्वारा दी गई राशि को संभालकर जमा करवाना। आवेदन और खातों से संबंधित फॉर्म भरना। राशि का समय पर भुगतान और जमा करने का कार्य करना। किसी की तरफ़ से आया हुआ पैसा सही हाथों तक पहुंचाना और उसकी रसीद बनाने का काम करना। खातों और अन्य सुविधाओं से संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाना।

ये भी पढ़ें:- सरकारी तेल कंपनियां दे रहीं गैस एजेंसी खोलने का मौका, ऐसे करें आवेदन

बैंक मित्र बनने के ये हैं मानक

दसवीं तक पास होने के साथ-साथ कंप्यूटर की बेसिक नॉलेज हो, तो कोई भी वयस्क बैंक मित्र बन सकता है। इसके अलावा रिटायर्ड हो चुके बैंक कर्मचारी, शिक्षक, बैंक व सैनिक भी इसे रोज़गार के रूप में अपना सकते हैं। साथ ही केमिस्ट शॉप, किराना शॉप, पेट्रोल पंप, स्वयं सहायता समूह, पीसीओ, कॉमन सर्विस सेंटर आदि भी बैंक मित्र के रूप में काम कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:- सिलेंडर खुद लाने पर उपभोक्ता को नहीं देना होता है डिलिवरी चार्ज, रेगुलेटर खराब या चोरी होने पर फ्री में मिलता है नया, जानिए कैसे

ऐसे बनें बैंक मित्र

  • वर्तमान में भारत सरकार ने जन धन योजना योजना के तहत बैंक मित्र 2018 भर्ती अधिसूचना प्रकाशित की है।
  • जिसके तहत कुछ एजेंसियां और संबंधित बैंक 50,000 नए बैंक मित्रों की भर्ती करेंगे।
  • इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करें।
  • आवेदन करने के लिए http://bankmitra.org/apply/ पर जाकर व ऑनलाइन फॉर्म भरें।
  • फॉर्म में दिए गए बैंकों में से अपने क्षेत्र में कार्यरत बैंक को चुनें व दी गई जानकारी पढ़ें।
  • ऑनलाइन आवेदन पूरा होने पर आपका आवेदन प्राथमिक वेरिफिकेशन के लिए भेजा जाएगा।
  • वेरिफिकेशन के अंत में आपको ईमेल से आवेदन का कंफर्मेशन दिया जाएगा।
  • अब आपका आवेदन चुनिंदा बैंक व बीसी (बिज़नेस कॉरस्पॉन्डेंट) को भेजा जाएगा।
  • बीसी आपका रजिस्ट्रेशन प्रोसेस शुरू करेंगे और इस दौरान आपकी चुनी हुई शाखा में आपको डॉक्यूमेंट्स लेकर जाना होगा।

ये भी पढ़ें:- स्मार्टफोन यूजर हो जाएं सावधान, अमेरिकी खुफिया एजेंसियां कर रही आपका डाटा चोरी

बैंक मित्र बनने के लिए ज़रूरी कागजात

  • आईडी प्रूफ (पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, वोटर कार्ड)
  • निवास प्रमाण (इलेक्ट्रिक बिल, टेलीफोन बिल, आधार कार्ड, वोटर कार्ड)
  • बिज़नेस एड्रेस (इलेक्ट्रिक बिल, टेलीफोन बिल, राशन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर कार्ड)
  • एजुकेशन प्रूफ - दसवीं की मार्कशीट।
  • कैरेक्टर सर्टिफिकेट - पुलिस वेरिफिकेशन।

ये भी पढ़ें:- पेंशन के लिए विधवाएं इस तरह कर सकती हैं ऑनलाइन आवेदन

ये मिलती है सुविधाएं

बैंक मित्र को न्यूनतम 5000 रुपए तक की फिक्स्ड सैलेरी मिलेगी। इसके अलावा अकाउंट में लेन-देन पर अलग से कमीशन भी मिलेगा। बैंक मित्र बनने पर आपके लिए अलग से एक कर्ज़ स्कीम भी तैयार की गई है। इसमें बैंक आपको कंप्यूटर, कार या फिर अन्य वाहन आदि ख़रीदने के लिए सवा लाख तक लोन भी देगा। इसमें 50 हज़ार उपकरण के लिए, 25 हज़ार कार्यशील पूंजी व अ 50 हज़ार वाहन का कर्ज़ मिलेगा। इसके लिए उसे 35 महीने से लेकर 60 महीने तक का समय मिलेगा। कर्ज़ के लिए 18 से लेकर 60 साल तक की उम्र के लोग पात्र होंगे।

ये भी पढ़ें:- कोर्ट से राम रहीम को भगाना चाहती थी हनीप्रीत, दर्ज हुआ देशद्रोह का मामला

अगर आप भूल गए हैं गाड़ी के कागजात तो भी नहीं कटेगा चालान, बस ये करना होगा काम

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top