भाई को हुई सजा तो बहन ने न्यायाधीश के चैम्बर में की तोड़फोड़

भाई को हुई सजा तो बहन ने न्यायाधीश के चैम्बर में की तोड़फोड़gaon connection

मेरठ (भाषा)। प्रदेश के मेरठ शहर में अदालत द्वारा एक व्यक्ति को आपराधिक मामले में सजा सुनाए जाने से गुस्साई उसकी बहन ने कचहरी परिसर स्थित अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अदालत संख्या-दो के चैंबर में घुसकर न केवल तोड़फोड़ की, बल्कि उसे रोकने की कोशिश करने वाली महिला कांस्टेबल को भी हमला कर घायल कर दिया।

मौके पर पहुंची पुलिस ने इस महिला को गिरफ्तार कर लिया। सिविल लाइन थाना प्रभारी एके राणा ने बताया कि गिरफ्तार महिला का नाम निशा है। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अदालत संख्या-दो ने पिछले दिनों निशा के भाई को लूट के एक मामले में 10 साल की सजा सुनाई थी। इसी प्रकरण को लेकर निशा अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अदालत संख्या-दो में पहुंची थी, जहां उसने बवाल किया।

अदालत के स्टेनो मनवीर ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि महिला जबरन न्यायाधीश के चैंबर में घुसी थी। महिला ने न्यायाधीश के निजी सहायक के कंप्यूटर रूम में पहुंचकर न्यायाधीश से मिलने की बात कही। महिला ने पर्ची पर अपना नाम निशा निवासी शिवशक्ति नगर लिखकर दिया। इस दौरान न्यायाधीश अपने विश्राम कक्ष में चले गए। मनवीर ने बताया कि इसी दौरान निशा जबरन  न्यायाधीश के विश्राम कक्ष में घुस गई। उसने अंदर घुसकर पहले कक्ष में रखा पानी का कंटेनर फेंक दिया।

उसके बाद उसने गाली-गलौज करते हुए मेज पर रखा शीशा उठाकर फेंक दिया, जिससे शीश टूट गया। वहां मौजूद कर्मचारियों ने महिला को रोकने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी। वहां मौजूद महिला कांस्टेबल अनीता ने महिला को रोकने का प्रयास किया तो उसने उस पर कुर्सी से वार किया। थाना प्रभारी के अनुसार दी गई तहरीर के आधार पर निशा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

Tags:    India 
Share it
Top