भारत बना एमटीसीआर का पूर्ण सदस्य

भारत बना एमटीसीआर का पूर्ण सदस्यgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। भारत आज मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था (एमटीसीआर) में पूर्ण सदस्य के तौर पर शामिल हो गया। भारत ने कहा है कि इस समूह में उसका प्रवेश वैश्विक अप्रसार शर्तों को बढ़ाने के लिए परस्पर फायदेमंद होगा।

किसी बहुपक्षीय निर्यात नियंत्रण समूह में पहली बार भारत को मिले प्रवेश को रेखांकित करते हुए विदेश सचिव एस जयशंकर ने फ्रांस के राजदूत एलेग्जेंडर जीगलर, नीदरलैंड के राजदूत एल्फोनस स्टोलिंगा और लग्जमबर्ग के प्रभारी (चार्ज डी एफेयर्स) लॉरे हुबर्टी की मौजूदगी में सदस्यता पत्र पर हस्ताक्षर किए।

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत आज सुबह एमटीसीआर में शामिल हो गया, इस समूह के 35वें सदस्य के रुप में भारत का प्रवेश अंतरराष्ट्रीय अप्रसार के लक्ष्यों को आगे बढ़ाने में परस्पर लाभकारी होगा।'' बयान में कहा गया, ‘‘भारत अपनी सदस्यता का समर्थन करने वाले एमटीसीआर के 34 सदस्यों में से प्रत्येक का शुक्रिया अदा करना चाहेगा। हम एमटीसीआर के सहअध्यक्षों- नीदरलैंड के राजदूत पीटर डी क्लेर्क और लग्जमबर्ग के रॉबर्ट स्टीनमेट्ज का भी शुक्रिया अदा करना चाहेंगे।''

आगे बयान में कहा गया है कि पेरिस में एमटीसीआर के ‘प्वाइंट ऑफ कॉन्टैक्ट' ने इस समूह में भारत को शामिल किए जाने से जुड़े निर्णय की जानकारी नई दिल्ली स्थित फ्रांसीसी दूतावास, नीदरलैंड और लग्जमबर्ग के दूतावासों के माध्यम से पहुंचाई।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top