भारत में खादी की लहर: केवीआईसी चेयरमैन

भारत में खादी की लहर: केवीआईसी चेयरमैनgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। खादी एवं ग्रामीण उद्योग आयोग (केवीआईसी) के चेयरमैन वीके सक्सेना ने आज कहा कि देश में खादी की लहर है तथा और अधिक मंत्रालयों एवं संस्थानों ने दैनिक आधार पर हाथ से बुने परिधान का उपयोग शुरु किया है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ‘मन की बात' कार्यक्रम में लोगों से ग्रामीण दस्तकारों की मदद के लिये कम-से-कम एक खादी उत्पाद खरीदने की अपील की। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने भी हाल ही में परामर्श जारी कर मंत्रालय और उससे जुड़े सार्वजनिक उपक्रमों के सभी सहयोगियों से खादी का उपयोग करने की अपील की।

सक्सेना ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री ने खादी की लहर पैदा की जिससे उत्पादों के लिये मांग बढ़ रही है और खादी दस्तकारों के लिये अधिक मानव श्रम सृजित कर रही है। खादी तथा ग्रामीण उद्योग के उत्पादों की बिक्री 2015-16 में बढ़कर 37,935 करोड़ रुपए हो गयी जो 2014-15 में 33,136 करोड़ रुपए थी। बिक्री बढ़ने से उत्साहित केवीआईसी ने चालू वित्त वर्ष में 35 प्रतिशत वृद्धि का लक्ष्य रखा है।

Tags:    India 
Share it
Top