भारत मेरा घर, यहीं अंतिम सांसें लूंगी: सोनिया गांधी

भारत मेरा घर, यहीं अंतिम सांसें लूंगी: सोनिया गांधीgaonconnection

तिरुवनंतपुरम (भाषा)। अपने इटली मूल के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से साधे गए निशाने पर भावुक प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए सोनिया गाँधी ने कहा, “भारत ही मेरा घर है, यहीं मेरी अस्थियां मेरे प्रियजनों के साथ घुलमिल जाएंगी।’’ 

एक चुनावी रैली में अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर करार के मुद्दे पर परोक्ष रुप से हमला बोलते हुए मोदी ने पिछले तीन दिनों में दो बार सोनिया के इटली मूल का मुद्दा उठाया था। सोनिया ने कहा कि वह राजनीति से जुड़ी बात नहीं, बल्कि कोई निजी बात साझा करनी चाहती हैं, प्रधानमंत्री मोदी के ‘‘कांग्रेस और खासकर मेरे बारे में’’ दिये बयान पर।

‘‘हां, मैं इटली में पैदा हुई थी। मैं 1968 में इंदिरा गांधी की बहू के तौर पर भारत आई थी। मैंने यहां जिंदगी के 48 साल बिताए हैं। यही मेरा घर है। यही मेरा देश है,’’सोनिया ने कहा।

पिछले दिनों तमिलनाडु और केरल में मोदी की ओर से रैलियों में किए गए हमले के जवाब में उन्होंने यह भावपूर्ण अभिव्यक्ति की। सोनिया ने कहा कि भारत में बिताए गए इन 48 सालों में आरएसएस, भाजपा और कुछ अन्य पार्टियों ने ‘‘हमेशा मेरी पैदाइश पर मुझे शर्मिंदा करने की नीयत से मुझे ताने मारे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं गर्वीले और ईमानदार माता-पिता की संतान हूं। मैं उन पर कभी शर्मिंदा नहीं होने वाली। हां, मेरे रिश्तेदार इटली में रहते हैं। मेरी मां 93 साल की हैं और मेरी दो बहनें हैं। लेकिन यहां, मेरे देश भारत में, इस हिस्से में मेरे प्रियजनों का खून समाया हुआ है।’’ सोनिया ने कहा, ‘‘मैं यहीं अपनी आखिरी सांसें लूंगी। यहीं आपके और मेरे प्रियजनों के साथ मेरी अस्थियां घुलमिल जाएंगी।’’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का एकमात्र मकसद ‘‘अपने विरोधियों का चरित्र हनन करना और झूठी बातें फैलाना है।’’

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top