भारतीय जब खुश रहते हैं तो नाश्ते में कुछ ऐसा खाना पसंद करते हैं

भारतीय जब खुश रहते हैं तो नाश्ते में कुछ ऐसा खाना पसंद करते हैंgaon connection

मुंबई।  हाल के सर्वेक्षण में पता चला है 97 फीसदी युवा और अमीर भारतीय जब भी खुश होते हैं तो वे नाश्ते में बादाम, फल और अन्य सूखे मेवे लेना पसंद करते हैं।

मार्केट रिसर्च कंपनी लेप्सोस के इस सर्वे में कहा गया है, “युवा और अमीर वयस्क भारतीयों में से ज़्यादातर के लिए नाश्ता करना अपनी खुशी ज़ाहीर करने का तरीका है। युवा और अमीर भारतीय जब भी खुश होते हैं तो उनमें से 97 फीसदी नाश्ते में बादाम, फल और अन्य सूखे मेवे खाना पसंद करते हैं।” इस सर्वे में दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, चंडीगढ़, नागपुर, भोपाल और कोयंबतूर के 18 से 35 साल आयु वर्ग के कुल 3,037 अमीर शहरी पुरुष और महिलाओं की राय जानी गई थी।

इन शहरों में बेंगलूरु में 99 फीसदी, चंडीगढ़ में 99 फीसदी और कोयंबतूर में भी 99 फीसदी लोगों ने खुशी के मौके पर नाश्ते में बादाम लेने की जानकारी दी।

सर्वे में कहा गया, “युवा और अमीर वयस्क भारतीय अपने नाश्ते में लजीज, मजेदार, गरमागरम और करारी चीज़ चाहते हैं लेकिन साथ ही वे सेहतमंद, पौष्टिक और ऊर्जा से भरपूर नाश्ता भी करना चाहते हैं। इससे पता चलता है कि लोगों की मानसिकता में सकारात्मक बदलाव आया है और सेहतमंद नाश्ते की ओर उनका रुझान बढ़ा है।”

भूख नहीं फिर भी करते हैं ज़्यादा नाश्ता

सर्वे में यह भी पता चला कि तनाव के दौरान 30 फीसदी लोग भूख नहीं लगने के बावजूद ज्यादा मात्रा में नाश्ता करते हैं। सर्वे में दिलचस्प तथ्य यह पता चला कि मुंबई, चंडीगढ़ और भोपाल के लोग तनाव में रहने के दौरान नाश्ता नहीं करना चाहते जबकि बेंगलुरु और हैदराबाद के लोग ऐसी स्थिति में ज़्यादा नाश्ता करते हैं। 

सर्वे में आगे कहा गया कि 82 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें नाश्ता करने के बाद ग्लानि महसूस नहीं होती है। ऐसा कहने वाले लोगों की सबसे ज्यादा संख्या 92 फीसदी के साथ मुंबई में है जिसके बाद 86 फीसदी के साथ चंडीगढ़ और 85 फीसदी के साथ बेंगलुरु है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top