भारतीय रेलवे को नई सुरक्षा तकनीक उपलब्ध कराएगी थेलस

भारतीय रेलवे को नई सुरक्षा तकनीक उपलब्ध कराएगी थेलसgaonconnection, भारतीय रेलवे को नई सुरक्षा तकनीक उपलब्ध कराएगी थेलस

वियना (भाषा)। भारतीय रेलवे के ‘शून्य दुर्घटना मिशन' की शुरआत के साथ ही फ्रांसीसी कंपनी थेलस सहित अनेक वैश्विक कंपनियों ने भारत के रेलवे नेटवर्क की सुरक्षा मजबूत बनाने के लिए आधुनिक तकनीक उपलब्ध कराने की तैयारी शुरु कर दी है।

भारतीय रेलवे की देश भर में लगभग 7900 किलोमीटर लंबी मुख्य लाइनों पर रेल संरक्षण चेतावनी प्रणाली (टीपीडब्ल्यूएस) के कार्यान्वयन की मंशा है जिसमें से 3300 किलोमीटर के लिए बजट पहले ही आवंटित किया जा चुका है।

थेलस इस समय चेन्न्ई के निकट 68 किलोमीटर लंबी रेल लाइन पर इस प्रणाली का प्रायोगिक आधार पर कार्यान्वयन कर रही है। इस प्रणाली का उद्देश्य चालकों की विफलता के कारण होने वाली रेल दुर्घटनाओं को रोकना है। यह प्रायोगिक परियोजना इस साल के आखिर तक पूरी होने की उम्मीद है। थेलस को मुख्य रेल व मेट्रो प्रणालियों को प्रभावी सिग्नल व निगरानी प्रणाली उपलब्ध कराने के लिए जाना जता है।

थेलस (आस्ट्रिया) के सीईओ अल्फ्रेड वेइदर ने कहा, ''भारतीय बाजार हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। भारतीय बाजार में उपस्थिति हमारे हित में है।'' वेइदर ने कहा, ''हमारी दिल्ली मेट्रो किराया संग्रहण प्रणाली में हिस्सेदारी है और हमने दिल्ली मेट्रो रेल निगम को प्रौद्योगिकी समर्थन उपलब्ध कराया है। हम हैदराबाद मेट्रो को संचार आधारित रेल नियंत्रण प्रणाली भी उपलब्ध करा रहे हैं।''

भारतीय रेलवे में 28 टीपीडब्ल्यूएस परियोजनाओं को पहले ही चिन्हित किया जा चुका है। इन परियोजनाओं का कार्यान्वयन अगले पांच साल में होने की उम्मीद है।

Tags:    India 
Share it
Top