बरसात में अपने घर की सेहत के लिए रखें इन बातों का ध्यान

बरसात में अपने घर की सेहत के लिए रखें इन बातों का ध्यानgaonconnection

बरसात का मौसम शुरू हो चुका है और इसके साथ ही कई समस्याएं भी आती हैं, गंदगी, बीमारी, कीड़े मकोड़े। हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसी बातें जिनका ध्यान रखकर आप बारिश के मौसम का मजा उठा सकते हैँ-

बारिश के मौसम में घर में ऐसे पर्दों का इस्तेमाल न करें जो मोटे कपड़े या फैब्रिक के बने हो। इसकी जगह पर पतले कपड़े से बने पर्दे का इस्तेमाल करें। इससे अगर वो गीले भी होते हैं तो जल्दी सूख भी जाएंगे साथ ही घर में सीलन की बदबू नहीं होगी।

इसी तरह मोटे कारपेट की जगह पतले कारपेट का प्रयोग करें ताकि घर में ना तो सीलन की बदबू फैलेगी और न ही कारपेट गीला रहेगा।

नहाने के पानी या तो डेटाल मिला लें और अगर ये हो सके तो नीम के पत्तों को पानी में अच्छे उबाल कर रख लें और जब भी नहाए इस नीम के पानी की कुछ बूंदों को नहाने के पानी में डाल लें।

अगर घर के किसी भी कोने में कोई दरार है तो उसे भर दें ऩहीं तो बारिश के मौसम में घर में सीलन के चांस बढ़ जाएंगे। हर कमरे और खासकर घर के एंट्री गेट पर पायदान बिछा कर रखें इससे धूल और मिट्टी घर के बाहर ही रहेगी। 

घर में जब भी पोछा लगाएं उसमे नमक या फिर फिनाइल डाल कर लगाएं, इससे कीड़ें-मकोड़े जो कि खासतौर पर गर्मी के मौसम में निकलते है ,घर में नहीं आएंगे।

बरसात के मौसम में जमीन पर ना सोएं क्योंकि बारिश के मौसम में तरह-तरह के कीड़े मकोड़े निकलते रहते हैं और कई बार ये काफी जहरीले भी होते हैं। कूलर, नालियों और गमलों में मिट्टी का तेल डाल दें ताकि मच्छर ना पनपे।

घर में सीलन की बदबू से बचने के लिए रुम फ्रेशनर या फिर अगरबत्ती का प्रयोग कर सकते हैं। बरसात के मौसम में कटे हुये फल और बाहर का खाना से जितना हो सके, उतना बचें क्योंकि आपको काफी बीमार कर सकता है।

इसके साथ ही बारिश के मौसम में चावल, दही, कड़ी जैसी चीजों का प्रयोग कम करें क्योंकि इनकी तासीर ठंडी होती है जो हड्डियों में दर्द का कारण बन सकती है।

खाना खाने से पहले और आंखों को छूने से पहले हाथों को अच्छे धो लें क्योंकि इन दिनों जर्मस बहुत ही तेजी से फैलते हैं। आंखों में होने वाली फुंसिया इन दिनों आम है इसलिए आंखों को छूने से पहले अच्छे से धो लें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top