बुंदेलखंड में मुख्य सचिव: कई अधिकारियों का तबादला, कईयों को फटकार

बुंदेलखंड में मुख्य सचिव: कई अधिकारियों का तबादला, कईयों को फटकारगाँव कनेक्शन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने बुन्देलखण्ड के वरिष्ठ अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये हैं कि सूखे से प्रभावित किसानों को प्रदेश सरकार की योजनाओं से लाभान्वित कराने में किसी भी स्तर पर लापरवाही हुई तो सम्बन्धित अधिकारियों को दण्डित किया जायेगा। 

मुख्य सचिव ने ये बातें आज जनपद बांदा के ग्राम पडुई में ग्राम चौपाल लगाकर जनता से सीधा संवाद के दौरान कहीं।

आलोक रंजन ने कहा, ‘‘बुन्देलखण्ड में तैनात लापरवाह अधिकारी अपनी कार्यशैली में सुधार न लाए और उनके विरुद्ध प्राप्त शिकायत सत्य पायी गई तो ऐसे अधिकारी निलम्बन के लिये तैयार रहें।’’

अधिकारी खुद कैम्प लगाकर जनता को दें योजना का लाभ

उन्होंने कड़े निर्देश दिये कि आम नागरिकों को अधिकारियों के कार्यालयों में योजनाओं से लाभान्वित होने हेतु चक्कर नहीं लगाने होंगे, बल्कि वरिष्ठ अधिकारियों को योजनाओं से पात्र लोगों को लाभान्वित कराने हेतु अभियान चलाकर गाँव-गाँव जाकर कैम्प लगाकर लाभान्वित कराकर प्रगति से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराना होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारी मुझे विभागवार मण्डल एवं जनपद स्तर पर बनायी जा रही योजना की जानकारी न देकर योजना के क्रियान्वयन से लाभान्वित होने वाले पात्र नागरिकों की जानकारी दें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के स्पष्ट निर्देष हैं कि समस्त वरिष्ठ अधिकारियों को प्रदेश सरकार की जनहितकारी योजनाओं से लाभान्वित कराने हेतु अभियान चलाकर अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित कराया जाये।’’ 

किसानों को बीमा राशि का हो भुगतान

उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड में सूखे की स्थिति से निपटने के लिये किसानों को फसल बीमा योजना के अन्तर्गत आगामी 31 जनवरी तक फसल बुवाई की बीमित राशि का प्रीमियम अवश्य जमा कराकर नियमानुसार आगामी फरवरी माह में किसानों को बीमित राशि का 25 प्रतिशत धनराशि का भुगतान कराया जाये, तथा किसानों के पशुओं हेतु भूसा एवं चारा का निशुल्क वितरण ग्राम पंचायत स्तर पर कराकर पशुओं को खाने की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये।

समस्याओं का तीन दिनों में हो निस्तारण

उन्होंने ग्राम पडुई में ग्राम चौपाल लगाकर आम जनता से सीधा संवाद स्थापित कर नागरिकों द्वारा उठायी गई समस्याओं का आगामी तीन दिन के अन्दर निस्तारण कर अवगत कराते हुये सम्बन्धित दोशी कर्मियों को भी दण्डित करने के निर्देश दिये।

लापरवाही पता चली तो अधिकारियों का किया तबादला

उन्होंने विभागीय वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक कर समीक्षा के दौरान एवं आम नागरिकों से प्राप्त शिकायतों के आधार पर जिला बेसिक अधिकारी चित्रकूट बीके सिंह अन्यत्र जनपद में स्थानान्तरित करने, वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा राजेश कुमार के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही, दीपक कुमार प्रयोगशाला सहायक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बिवार हमीरपुर का स्थानान्तरण करने के निर्देश दिये।

उन्होंने शासकीय दायित्वों का निर्वहन करने में लापरवाही बरतने पर स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी बांदा डा अनिल कुमार सिंह एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला अस्पताल डॉ एसएन गुप्ता, बीके तिवारी वित्त एवं लेखाधिकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय,  अजय द्विवेदी जिला अकाउण्ट मैनेजर,  कौशल यादव डीएएम को प्रतिकूल प्रविष्टि तथा आलोक कुमार कनिष्ठ लिपिक को निलम्बित करने के निर्देश दिये।

विद्दुत विभाग के अधिकारियों को धमकी

रंजन ने बुन्देलखण्डवासियों को विद्युत आपूर्ति पूर्ण क्षमता के साथ आपूर्ति कराने हेतु लापरवाही बरतने पर विद्युत विभाग के मुख्य अभियंता एकेसक्सेना एवं अधीक्षण अभियंता एके मिश्रा को कड़ी चेतावनी देते हुये निर्देश दिये हैं कि आगामी तीन दिन में लो वोल्टेज की समस्या का समाधान नहीं हुआ, तो निलम्बन के लिये तैयार रहें। 

उन्होंने कहा, ‘‘पम्प कैनाल्स चालू होने तथा चालू कराने की नियमित रूप से वरिष्ठ अधिकारी मॉनीटरिंग कर यह सुनिश्चित कराएं कि किसानों को आवश्यकतानुसार पानी की आपूर्ति अवश्य सुनिश्चित हो सके। 

जिलाधिकारियों को दिए निर्देश

मुख्य सचिव ने सम्बन्धित जिलाधिकारियों को भी कड़े निर्देश दिये कि डार्क जोन क्षेत्रों पर स्वयं विषेश ध्यान देकर योजनाओं को क्रियान्वयन सुनिश्चित कराकर सम्बन्धित क्षेत्रों को रिचार्ज कराकर डार्क जोन से हटाने हेतु कारगर प्रयास सुनिश्चित किये जाएं। उन्होंने कहा, ‘‘सिंचाई की समस्या के समाधान हेतु आवश्यकतानुसार फार्म पाउण्ड योजना का क्रियान्वयन गंभीरता से सुनिश्चित कराया जाये।’’ 

जॉब कार्ड ना हो फिर भी मिले काम

उन्होंने कहा कि नागरिकों को योजना के अन्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराने हेतु जॉब कार्ड अभियान चलाकर जॉब कार्ड बनवाएं, ताकि अधिक से अधिक लोगों को योजनाओं के तहत रोजगार प्राप्त हो सके। योजना के अन्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराने हेतु जॉब कार्ड के अभाव में किसी को रोका कतई न जाये।

लंबित शिकायतों का हो अभियान चलाकर हो निस्तारण

रंजन ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुये सम्बन्धित वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिये कि लम्बित विवेचनाओं का निस्तारण कराने के लिए अभियान चलाते हुये इस बात का आवश्य ध्यान रखा जाये कि लम्बित विवेचनायें गुणवत्ता के साथ निस्तारित करायी जायें। उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि थानों के वार्शिक निरीक्षण में कोई शिथिलता न बरती जाये तथा थाना भवनों में पड़े माल-मुकदमाती वस्तुओं का निस्तारण कराने हेतु नियमानुसार कार्यवाही आवश्य की जाए।

उन्होंने कहा, ‘‘इनामी अपराधियों के विरुद्ध सघन अभियान चलाया जाएं एवं गैंगेस्टर एवं गुण्डा एक्ट के तहत कड़ी कार्यवाही की जाए।’’ उन्होंने अवैध शराब एवं जुआं सम्बन्धी शिकायतों को संज्ञान में लेते हुये वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे अराजक तत्वों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाये।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top