छत्तीसगढ़ के किसानों को पांच लाख रुपए तक लोन पर नहीं देना होगा ब्याज

छत्तीसगढ़ के किसानों को पांच लाख रुपए तक लोन पर नहीं देना होगा ब्याजgaonconnection

रायपुर। छत्तीसगढ़ में किसानों को पांच लाख रुपए तक ब्याज नहीं देना पड़ेगा, क्योंकि यहां के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने किसानों को पांच लाख रुपए तक ब्याज मुक्त ऋण दिने का फैसला किया है।

रमन सिंह ने आकाशवाणी से प्रसारित मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ’ में कहा कि राज्य के किसानों को खेती के लिए पांच लाख रुपए तक ब्याज मुक्त अल्पकालीन कृषि ऋण देने की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा ब्याज अनुदान की पात्रता के लिए प्रति हेक्टेयर, असिंचित भूमि पर 20 हजार रुपए और सिंचित भूमि पर 25 हजार रुपए की पूर्व प्रचलित ऋण सीमा को समाप्त कर दिया गया है। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता राज्य में स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों से एक साथ प्रसारित की गई।

मुख्यमंत्री ने जनता को विश्वास दिलाया कि उनकी सरकार फर्जी बैंकिंग और फर्जी चिटफंड कंपनियों से निपटने के लिए सतर्क है। इसके लिए राज्य सरकार ने कानून भी बनाया है, जिसके तहत उन वित्तीय संस्थाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने और दोषियों को कड़ी सजा देने का प्रावधान है, जो आम नागरिकों को ठग कर उनका पैसा हड़प लेते हैं।

सिंह ने बताया कि इस कानून के तहत कलेक्टर को सूचना दिए बिना कोई भी कंपनी अपना वित्तीय कारोबार नहीं कर सकती। उन्होंने जनता से अपील की कि किसी भी कंपनी में पैसा जमा करने के पहले अच्छी तरह से जांच पड़ताल कर लें।

Tags:    India 
Share it
Top