डायल-100 बनेगी विश्वस्तरीय सेवा: अखिलेश यादव

डायल-100 बनेगी विश्वस्तरीय सेवा: अखिलेश यादवगाँव कनेक्शन

लखनऊ। पुलिस के कामकाज पर तंज कसते हुए सीएम अखिलेश यादव ने कहा, “पुलिस है...कुछ न कुछ तो करेगी ही।”

प्रदेश भर में अक्टूबर से शुरु होने वाली डायल-100 के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा, “हम चाहते हैं कि प्रदेश के लोगों को सुरक्षित होने का भरोसा हो। कभी भी किसी को जरूरत पड़ेगी तो पुलिस की ही पड़ेगी, मदद पुलिस ही करेगी। इसमें डायल-100 देश को उदाहरण देगा। इस योजना की सफलता इस पर निर्भर करेगी कि पुलिस के लोग इसमें अच्छे से काम करें।”     

पुलिस की सहायता पहुंचाने के लिए डायल-100 पूरे प्रदेश में एक साथ एक लाख गाँवों में शुरु किया जाएगा। इसमें प्रदेश के किसी भी कोने से कॉल करने पर 15-20 मिनट में पुलिस हर हाल में पहुंच जाएगी। डायल-100 के अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को इसके लिए जुलाई-अगस्त में विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। पीड़ित की कॉल आने पर सबसे पहले उसे महिला अधिकारी ही उठाएंगी। उसके बाद कॉल की डिटेल को संबंधित क्षेत्र की पेट्रोलिंग पुलिस को दिया जाएगा।  

वहीं मुख्य सचिव आलोक रंजन ने डायल-100 को कानून-व्यवस्था के लिए ‘गेम चेंजर’ बताते हुए कहा, “इसमें करीब 25000 लोग लगाएं जाएंगे, साथ ही रेग्युलर एसओ-एसपी को भी लगाया जाएगा। इनकी ट्रेनिंग जुलाई-अगस्त में शुरु हो जाएगी।”

इस सेवा को सुचारु रूप से चलाने के लिए महिन्द्रा डिफेंस सिस्टम को कमान सौंपी गई है।  वहीं, गृह विभाग में सलाहकार वेंकट चंगावल्ली ने कहा, “हर क्राइम के लिए मानकीकृत प्रकिृयाएं होंगी। जैसी सुविधाएं शहरों में होंगी, वैसी ही गाँवों में भी मिलेंगी। साथ ही कॉल सेंटर में हर भाषा समस्या सुनी जाएगी।” 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top