डग्गामारों पर चला पुलिस का डंडा

डग्गामारों पर चला पुलिस का डंडाgaoconnection

मैनपुरी। डग्गामारी पर अंकुश लगाने के लिए सोमवार को प्रशासन ने आखिरकार सख्ती कर ही दी। पुलिस अधीक्षक हिमांशु कुमार के निर्देश पर जिले भर में एक साथ कार्रवाई कराई गई। अभियान के दौरान दो दर्जन से ज्यादा छोटे-बडे डग्गामार वाहनों को कब्जे में लेकर उनके चालान कर सीज कर दिया गया। 

डग्गामार वाहन जिले की परिवहन व्यवस्था में सबसे बडा रोड़ा बन चुके हैं। सबसे ज्यादा समस्या रोडवेज को हो रही है। पूरे जिले में तकरीबन पांच दर्जन प्राइवेट बसें अलग-अलग रूटों पर संचालित हो रही हैं। अकेले शहर मैनपुरी से ही लगभग 40 बसों का संचालन विभिन्न रूटों पर होता है। इन बसों की वजह से रोडवेज को लाखों रूपए का घाटा उठाना पड़ रहा है। 

सोमवार की शाम पुलिस अधीक्षक हिमांशु कुमार ने सभी डग्गामार वाहनों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने के निर्देश पुलिस को दिए। आनन-फानन में सभी थानों की पुलिस ने बेरियर लगाकर कार्रवाई की। प्राइवेट बसों और चार पहिया वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया गया। कार्रवाई में दो दर्जन से ज्यादा वाहनों को पुलिस ने पकडकर उनके चालान काटे और बाद में सीज कर दिया। 

इस कार्रवाई से सबसे ज्यादा परेशान प्राइवेट बस चालक हुए। बसों को छुड़ाने के लिए रसूखदारों से लेकर सत्ताधारी पार्टी के जिम्मेदारों के फोन कोतवाली में घनघनाते रहे। कई रसूखदारों ने तो कोतवाली पहुंचकर पुलिस पर वाहनों को छोड़ने का भी दबाव बनाया। कोतवाली प्रभारी शुजात हुसैन का कहना है कि पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कार्रवाई की गई है। डग्गामार वाहनों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top