डॉक्टरों की ऑनलाइन हाजिरी जनवरी से

डॉक्टरों की ऑनलाइन हाजिरी जनवरी से

लखनऊ। सरकारी अस्पतालों से चिकित्सकों के नदारद रहने की आदत पर अंकुश लगाने के लिए सरकार उनकी हाजिरी ऑनलाईन करने जा रही है। 

इससे सबसे ज्यादा फायदा ग्रामीण इलाकों में मौजूद सीएचसी-पीएचसी को मिलेगा जहां अक्सर डॉक्टरों के गायब होने की शिकायते मिलती रहती है। इस प्रोजेक्ट पर चल रहा काम दिसंबर तक पूरा हो जाएगा और जनवरी से सरकार इसे लागू करने की तैयारी शुरु कर देगी।

स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन का कहना है कि डॉक्टरों की ऑनलाइन अटेंडेंस की तैयारी हो गई है। जनवरी से इस योजना को लागू कर दिया जाएगा। इसके बाद अस्पतालों से गायब रहने वाले डॉक्टर बच नहीं पाएंगे। डॉक्टर न सिर्फ  अस्पताल पहुंचेंगे बल्कि ओपीडी में मरीजों को भी देखेंगे।

डॉक्टरों की उपस्थिती सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार करवाया है जिससे वह अपने दफतर से पता लगा सके कि डॉक्टर अपनी ड्यूटी कर आया है या नहीं। इसके बाद मुख्यालय से ही पता किया जा सकेगा कि किस सीएचसी-पीएचसी में कौन से डॉक्टर मौजूद हैं। इस सॉफ्टवेयर को विकसित कराने की जिम्मेदारी यूपी हेल्थ सिस्टम स्ट्रेंथनिंग प्रोजेक्ट को सौंपी गई है। इस सॉफ्टवेयर से एक क्लिक पर अस्पतालों का विवरण भी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगा।

Tags:    India 
Share it
Top