मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने पर चीन का अड़ंगा 

मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने पर चीन का अड़ंगा पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर।

बीजिंग (भाषा)। चीन ने शनिवार को पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंध लगाने पर फिर अड़ंगा लगा दिया। उसने कहा कि भारत के आवेदन पर अलग-अलग राय थी और बीजिंग का कदम ‘प्रासंगिक पक्षों' को विचार-विमर्श करने का और समय देगा।

चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र की समिति संख्या 1267 को सदस्य देशों द्वारा सौंपे गये आवेदन को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रासंगिक प्रस्तावों की विशेष जरूरतों का अवश्य अनुपालन करना चाहिए। भारत ने कहा था कि अजहर पर प्रतिबंध के प्रयासों की राह में चीन की दूसरी तकनीकी अडचन खतरनाक संदेश भेजेगा। चीन 15 सदस्यीय यूएनएससी का एकमात्र सदस्य है जिसने अजहर पर प्रतिबंध का विरोध किया है। उसका दावा है कि अजहर के खिलाफ भारत के आवेदन पर अलग-अलग राय है। भारत की कड़ी प्रतिक्रिया से जुड़े सवाल पर मंत्रालय ने कहा, ‘‘इस साल मार्च में किए गए भारत के आवेदन पर अब भी अलग-अलग राय है। इस पर तकनीकी रोक लगाना समिति को मामले पर विचार करने और संबंधित पक्षों को इसपर और विचार-विमर्श करने के लिए और समय मुहैया कराएगा।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top