चाइना के विरोध में जलाई गईं चाइना निर्मित वस्तुएं

चाइना के विरोध में जलाई गईं चाइना निर्मित वस्तुएंprotest of businessmen

लखनऊ। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल संगठन द्वारा चाइना का विरोध करते हुए उसके द्वारा निर्मित उत्पादों का बहिष्कार किया गया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के लगभग सभी जिला मुख्यालयों में इन उत्पादों को जलाकर होली जलाई गई है। साथ ही पाकिस्तान और चाइना के खिलाफ नारेबाज़ी भी की गई।

राज्य के सभी जिलों में चलाया गया अभियान

संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं राज्यमंत्री (उत्तर प्रदेश) संदीप बंसल ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि सहारनपुर, जौनपुर, सीतापुर, लखीमपुर, कानपुर, हाथरस, मथुरा, सुल्तानपुर, गोरखपुर, कन्नौज, गोंडा, शाहजहांपुर, रायबरेली सहित राज्य के सभी जिलों में उत्पादों के बहिष्कार के लिए आन्दोलन चलाया जा रहा है। राजधानी में दोपहर 3 बजे संदीप बंसल के नेतृत्व में व्यापारियों ने चाइना मुर्दाबाद, पाकिस्तान मुर्दाबाद की नारेबाज़ी के साथ लोगों से चाइना निर्मित वस्तुओं का उपयोग न करने की अपील की गई। जिसका का समर्थन रिपन अग्रवाल (राष्ट्रीय मंत्री), हाफ़िज़ अहमद (प्रदेश मंत्री), आकाश गौतम (प्रदेश कार्यसमिति सदस्य), प्रदीप अग्रवाल (नगर अध्यक्ष), सुरेश छबलानी (महामंत्री), जावेद बेग (युवा अध्यक्ष), रितेश गुप्ता (महामंत्री) ने भी किया।

चाइना कर रहा आतंकी पाकिस्तान का समर्थन

संदीप बंसल का कहना है कि चाइना आतंकवादी पाकिस्तान का समर्थन कर रहा है साथ ही उत्पादों की वजह से भारत के छोटे और मझोले उद्योग लाखों की संख्या में बंद हो रहे हैं। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित केंद्र सरकार से भी उत्पादों की खरीदारी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की।

हमारा उद्देश्य भारत जैसे सबसे बड़े उपभोक्ता देश को चाइना के उत्पादों की खपत से बचाना है। चाइना अपने उत्पादों को भारत में बेचकर देश का दोहरा नुकसान कर रहा है।
संदीप बंसल (राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं राज्यमंत्री )

जागरुकता के तहत निकाला गया पैदल मार्च

हमराह एक्स कैडेट एनसीसी जन कल्याण सेवा संस्थान द्वारा विदेशी उत्पादों कि बहिष्कार के खिलाफ जागरुकता के तहत पैदल मार्च लिकाला गया। यह मार्च केडी सिंह बाबू स्टेडियम से जीपीओ तक निकाला गया। साथ में जनता को चाइनीज़ सामानों का बहिष्कार करने के लिए प्रेरित भी किया। संस्थान के अध्यक्ष अजीत सिंह ने केंद्र व राज्य सरकार से स्वदेशी माल की खपत व व्यवसाय के लिए स्रोतों को बढ़ावा देने की अपील की।

Share it
Top