दादरी कांड के एक आरोपी की न्यायिक हिरासत में मौत

दादरी कांड के एक आरोपी की न्यायिक हिरासत में मौतदादरी कांड के एक आरोपी की न्यायिक हिरासत में मौत

लखनऊ। पिछले साल सितम्बर में दादरी में हुए अखलाक मर्डर केस के एक आरोपी रवि उर्फ रॉबिन की न्यायिक हिरासत में मौत हो गई है। अखलाक की बीफ खाने के संदेह के आधार पर भीड़ ने पीट-पीटकर हत्‍या कर दी थी।

LNJP अस्पताल के मेडिकल सुपरिन्टेंडेंट डॉ. जेसी पासी के अनुसार, ‘‘रवि को दोपहर करीब 12 बजे यहां बहुत बुरी हालत में लाया गया था। उसके गुर्दे काम नहीं कर रहे थे, ब्लड शुगर का स्तर बहुत ज़्यादा था। शाम सात बजे उसकी मौत हो गई।’’ उन्होंने बताया कि रवि के गुर्दे और श्वांस तंत्र काम नहीं कर रहे थे।

जरचा पुलिस थाने के प्रभारी प्रदीप कुमार सिंह ने बताया, ‘‘रवि को सुबह जेल से नोएडा में जिला अस्पताल ले जाया गया। फिर हालत बिगड़ने पर उसे दिल्ली के अस्पताल लाया गया।’’

रवि के परिवार वालों ने उसकी मौत के पीछे साजिश का अंदेशा जताया है और कहा है कि उसकी जेल में पिटाई की गई है और रवी की मौत का जिम्मेदार जेलर को ठहराया है। हालांकि रवी की मौत की हकीकत क्या है इसके लिए बुधवार को पोस्‍टमार्टम किया जाएगा। न्‍यायिक हिरासत में मौत होने के कारण न्‍यायिक जांच का भी गठन किया जाएगा।

अखलाक

पिछले साल सितम्बर में भीड़ ने अखलाक और उसके बेटे को बीफ खाने के संदेह में भीड़ ने बुरी तरह पीटा था जिसमें अखलाक की मौत हो गई थी और उसका बेटा दानिश बुरी तरह घायल हो गया था। उसके बाद अखलाक के परिवार वालों ने डर के मारे घर छोड़ दिया था और अब वो लोग दिल्‍ली में रह रहे हैं।

यूपी में बीफ खाने पर पाबंदी नहीं है लेकिन गो-हत्‍या गैर-जमानती अपराध है और इस मामले में सात साल तक की सजा हो सकती है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top