पंजाब में दलित युवक की हत्या, पैर काटा, तीन गिरफ्तार

पंजाब में दलित युवक की हत्या, पैर काटा, तीन गिरफ्तारप्रतीकात्मक फोटो

चंडीगढ‍़/मनसा (भाषा)। कथित रूप से अवैध शराब के कारोबार में लिप्त 20 साल के एक दलित युवक की पंजाब के मनसा जिले में उसके प्रतिद्वंद्वी गुट ने बेरहमी से हत्या कर दी और उसका पैर काट दिया। घटना के बाद तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मनसा के एसएसपी मुखविंदर सिंह ने कहा कि पुलिस ने जिले के तीन आरोपियों बलबीर सिंह, हरदीप सिंह और साधु सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने कहा कि तीन अन्य आरोपियों अमनदीप सिंह, बाबरीक सिंह और सीता सिंह को गिरफ्तार करने की कोशिशें जारी हैं।

घटना के सिलसिले में छह लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है जिनमें से एक दलित है। पुलिस ने कहा कि यह घटना दो समूहों के बीच आपसी दुश्मनी का नतीजा है और पहले भी उनके बीच झगड़े हो चुके हैं। गत सोमवार को विरोधी गुट ने एक मामला सुलझाने के बहाने से सुखचैन सिंह और उसके दोस्तों को बुलाया था। एसएसपी सिंह ने बताया, ‘‘फिर सोमवार की रात उन्होंने सुखचैन और उसके दोस्तों पर धारदार हथियारों से हमला किया। हालांकि सुखचैन के दोस्त भागने में सफल रहे। दूसरे गुट ने धारदार हथियार से सुखचैन की बेरहमी से हत्या कर दी।'' पुलिस ने बताया कि आरोपी बलवीर के घर से उसका शव बरामद किया गया। सुखचैन के शव पर जख्म के निशान हैं और उसका पैर भी कटा देखा गया। पुलिस ने बताया कि कटा हुआ पैर अपराध स्थल से करीब 400 मीटर दूर खेतों में मिला है।

Share it
Top