भारत, कनाडा आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध: जेटली 

भारत, कनाडा आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध: जेटली भारत, कनाडा आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध: जेटली 

टोरोंटो (भाषा)। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि भारत और कनाडा आर्थिक और वित्तीय संबंधों को मजबूत बनाने और रणनीतिक भागीदारी को मजबूत बनाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कनाडा को भारत के ढांचागत क्षेत्र में निवेश का निमंत्रण भी दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘दोनों देश आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं क्योंकि माहौल सकारात्मक है। लंबित मामलों के समाधान के लिये दोनों देशों के वार्ताकार जल्द ही बैठक करेंगे।'' जेटली ने कल कनाडा के वित्त मंत्री बिल मोरनेऊ और अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री क्रिस्टीया फ्रीलैंड से मुलाकात की और प्रस्तावित व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौता (सीईपीए) और विदेशी निवेश एवं संवर्द्धन और संरक्षण समझौता (FIPA) समेत भारत-कनाडा संबंधों में हुई प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा, ‘‘दोनों देश प्रस्तावित समझौतों को अंतिम रुप देने को लेकर बेहद गंभीर हैं।'' जेटली ने कहा कि दोनों देशों ने रणनीतिक भागीदारी बढ़ाने पर सहमति जतायी है। वित्त मंत्री ने कनाडा के पेंशन कोष, बैंक और वित्तीय क्षेत्र की कंपनियों के प्रमुखों के साथ भी बैठकें की।

उन्होंने कहा, ‘‘कनाडाई निवेशकों का पिछले 24 महीने में भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश करीब 12 अरब डालर रहा है। इसमें कनाडाई निवेशकों का पोर्टफोलियो निवेश शामिल नहीं है।'' जेटली ने कहा, ‘‘भारत वृद्धि के रास्ते पर अग्रसर है और दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले तेजी से आगे बढ़ रहा हैं। भारत में निवेश पर रिटर्न काफी अधिक रहने की संभावना है और अन्य देशों के मुकाबले जोखिम काफी कम है।''

कनाडा के वित्त मंत्री मोरनेऊ ने एक बयान में कहा, ‘‘मैं कनाडा के भारत के साथ लंबे समय से बेहतर संबंधों से खुश हूं। कनाडा के लिए यह जरूरी है कि वह मध्यम वर्ग की समृद्धि और मौके उपलब्ध करने के लिये दुनिया के साथ निरंतर जुड़ा रहे।'' उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच आर्थिक और वित्तीय संबंधों को मजबूत बनाने की दिशा में कनाडा-भारत वित्त मंत्रियों की वार्ता एक महत्वपूर्ण पहल है। दोनों मंत्री इस सप्ताह अमेरिका जाएंगे जहां वे अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष और विश्वबैंक समूह के साथ की सालाना बैठकों के साथ जी-20 बैठक में शामिल होंगे।

Share it
Top