भारतीय सेना का नियंत्रण रेखा पर आतंकवादी ठिकानों पर हमला

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   29 Sep 2016 3:30 PM GMT

भारतीय सेना का  नियंत्रण रेखा पर आतंकवादी ठिकानों पर  हमलानई दिल्ली में भारत-पाकिस्तान सीमा रेखा की ताजा स्थिति पर सीसीएस की बैठक की अध्यक्षता करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।

नई दिल्ली (भाषा)। भारत ने बीती रात नियंत्रण रेखा के पार स्थित आतंकी शिविरों पर सर्जिकल हमले किए, जिनमें आतंकवादियों को भारी नुकसान पहुंचा है और अनेक आतंकवादी मारे गए हैं।

सेना द्वारा आतंकवादियों को निशाना बनाने के लिए अचानक की गई इस कार्रवाई के बारे में घोषणा सैन्य अभियान महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल रणवीर सिंह ने आनन-फानन में बुलाए गए संवाददाता सम्मेलन में की। संवाददाता सम्मेलन में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरुप भी मौजूद थे।

सैन्य अभियानों के महानिदेशक (डीजीएमओ) ने कहा है, ‘‘घुसपैठ में तेजी आई है, आतंकवादियों को हम नियंत्रण रेखा पर सक्रिय होने की इजाजत नहीं दे सकते।'' डीजीएमओ ने बताया कि भारत ने पाकिस्तान की सेना के साथ सर्जिकल हमलों की जानकारी साझा की है। उन्होंने कहा कि भारतीय सशस्त्र बल किसी भी स्थिति के लिए तैयार, फिलहाल आगे और अभियान की योजना नहीं है।

वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सर्जिकल हमलों के बारे में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सूचित किया। इसके साथ जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को भी इस हमले की सूचना दी गई।

गृह मंत्री ने पंजाब, पश्चिम बंगाल, माकपा के नेता सीताराम येचुरी और कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद को सर्जिकल हमलों के बारे में सूचना दी।

उधर पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पार भारत के ‘सर्जिकल हमलों' के दावे को खारिज किया। पाक सेना ने कहा कि पाकिस्तान में आतंकी ठिकाने को निशाना बनाने का भारत का दावा झूठा है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top