मोदी से 100 दिन के अंदर नए अमेरिकी राष्ट्रपति की मुलाकात अहम: अमेरिकी संगठन

मोदी से 100 दिन के अंदर नए अमेरिकी राष्ट्रपति की मुलाकात अहम: अमेरिकी संगठननरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

वाशिंगटन (भाषा)। राष्ट्रपति के तौर पर बराक ओबामा के बस एक सौ दिन बचे हैं और इस बीच एक अहम अमेरिकी गैर सरकारी संगठन ने सलाह दी है कि नए अमेरिकी राष्ट्रपति अपने कार्यकाल के 100 दिन के अंदर अंदर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करें ताकि दोनों देशों के बीच जारी निकट संबंधों की अहमियत का मजबूत संकेत जाए।

सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक ऐंड इंटरनेशनल स्टडीज ने नवंबर के चुनाव में निर्वाचित होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति से आग्रह किया है कि वह सुनिश्चित करे कि भारत आधारभूत संधियों पर दस्तखत करे जो उसके अनुसार दोनों देशों के बीच रक्षा संबंधों को मजबूत करने के लिए अहम हैं। सेंटर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इन संधियों की गैर मौजूदगी में अमेरिका के लिए भारत को इस तरह की कुछ खास अत्याधुनिक ‘सेंसिंग', ‘कंप्यूटिंग' और संचार प्रौद्योगिकियां प्रदान करना अगर पूरी तरह नहीं तो लगभग नामुमकिन हो जाएगा जिसे भारत अपनी रक्षा क्षमता के लिए अनिवार्य मानता है।

रिपोर्ट ने कहा है, ‘‘अमेरिकी विदेश मंत्रालय और विदेश मंत्रियों के नेतृत्व में कोई चतुर्भूजीय सुरक्षा संवाद स्थापित करने के लिए अगले प्रशासन को ऑस्ट्रेलिया, भारत और जापान के साथ काम करना चाहिए। इस संवाद को पूरे प्रशांत और हिंद महासागर क्षेत्रों में साझे हितों के मुद्दों पर केन्द्रित करना चाहिए।'' इसने कहा है कि नए प्रशासन के पहले 100 दिन के अंदर अमेरिकी राष्ट्रपति और भारतीय प्रधानमंत्री की मुलाकात के लिए विशेष अवसर का सृजन द्विपक्षीय रिश्तों के महत्व के बारे में मजबूत संकेत देगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top