500-1000 के नोट बंद होने के बाद आयकर विभाग ने 100 करोड़ रुपये की नकदी पकड़ी

500-1000 के नोट बंद होने के बाद आयकर विभाग ने  100 करोड़ रुपये की नकदी पकड़ीसरकार ने मंगलवार तो कालेधन पर अंकुश के इरादे से 500 और 1,000 के नोटों पर प्रतिबंध लगाया था।

नई दिल्ली (भाषा)। 500 व 1000 रुपये के मौजूदा करंसी नोटों को बंद किए जाने के बीच कारोबारियों व सटोरियों द्वारा कथित चोरी व मुनाफा कमाने की खबरों के मद्देनजर आयकर विभाग ने आज अपने सर्वे का दायरा बढ़ाते हुए 100 करोड़ रुपये की ‘अघोषित' नकदी व बिक्री का पता लगाया।

ऐसा कहा जा रहा है कि पुराने नोटों के बंद होने के कारण कारोबारी व सटोरिए पुराने नोटों को बदलने में मुनाफा कमा रहे हैं और इसमें कर चोरी का भी प्रयास है। इस बीच वित्त मंत्रालय ने पुलिस व अर्धसैनिक बलों से कहा है कि वे असैन्य हवाई अड्डों, दिल्ली मेट्रो, रेलवे स्टेशनों पर बस अड्डों पर विशेषकर 500 व 1000 रपये के नोटों वाली राशि भारी मात्रा में लाए ले जाने पर निगाह रखें।

बड़े शहरों में पड़ा छापा

अधिकारियों ने कहा कि आयकर विभाग ने दिल्ली, बंगलुरु, कोलकाता व मुंबई में अनेक प्रमुख बाजारों व दुकानों को अपने सर्वे के दायरे में लिया है। इन स्थानों पर एक तरह से ‘अघोषित' नकदी व बिक्री दस्तावेज मिले हैं. यानी इस नकदी व बिक्री का उल्लेख कहीं नहीं किया गया।

अधिकारी ने कहा,‘ सर्वे कार्य का विस्तार किया गया है और ज्यादा बिक्री व नकदी का पता चला है। विभिन्न शहरों में कुल मिलाकर इस तरह की 100 करोड़ रुपये मूल्य की ज्यादा बिक्री या नकदी पकडी गई है। अधिकारी ने कहा कि इन मामलों में जांच की जाएगी तथा सम्बद्ध कारोबारियों, व्यापरियों से लेनदेन की जानकारी देने को कहा गया है।

विभाग ने बिक्री से जुड़े कुछ दस्तावेज भी जब्त किए हैं और सटोरियों, जौहरियों से इस बारे में ब्यौरा देने को कहा गया है। इस बीच यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक व्यक्ति को कर विभाग के अधिकारियों ने लगभग 50 लाख रुपये के पुराने नोटों के साथ रोका। अधिकारी ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है, इस तरह एक मामला कोलकाता हवाई अड्डे पर भी सामने आया।

Share it
Share it
Share it
Top