सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सदमे में आया पाकिस्तान सीमा पर तनाव कम करने को राजी  

Ashish DeepAshish Deep   3 Oct 2016 3:51 PM GMT

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सदमे में आया पाकिस्तान सीमा पर तनाव कम करने को राजी  वाघा बार्डर

इस्लामाबाद (भाषा)। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान बैकफुट पर नजर आ रहा है। पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर तनाव घटाने को तैयार हो गया है। विदेशी मामलों पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के सलाहकार सरताज अजीज ने आज कहा कि भारत और पाकिस्तान के एनएसए ने फोन पर बात कर नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने पर सहमति जताई है।

दोनों देशों के बीच तनाव कम करने की कोशिशें तेज हुई हैं।

नियंत्रण रेखा पार स्थित आतंकी ठिकानों पर भारत के हमला करने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ. गया था। दोनों देशों की सीमाओं पर सेनाओँ का तमावड़ा बढ़ता जा रहा है इससे दुनियाभर के देश चिंतित है। अजीज ने इस बात की पुष्टि की है कि नियंत्रण रेखा पर दोनों देशों के बीच तनाव बढ.ने के बाद भारत के एनएसए अजीत डोभाल और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नासिर जंजुआ के बीच संपर्क हुआ और उनके बीच नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने को लेकर सहमति बनी। जीयो न्यूज ने अजीज के हवाले से कहा, ‘‘पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करना चाहता है और कश्मीर पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है। उन्होंने कहा कि भारत तनाव को बढ़ाकर कश्मीर मसले से दुनिया का ध्यान भटकाना चाहता है।

उधर, संघर्ष विराम का एक बार फिर से उल्लंघन करते हुए पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू जिले के पल्लनवाला सेक्टर में नियंत्रण रेखा से लगे इलाकों में फायरिंग और गोलाबारी की. नियंत्रण रेखा से लगे पल्लनवाला क्षेत्र के अग्रिम इलाकों में रविवार शाम नियंत्रण रेखा के उस पार से गोलीबारी और गोलाबारी शुरु हुई।सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से यह संघर्ष विराम उल्लंघन की यह छठी घटना है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि हमारे जवान हमलों का मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं। उन्हीं की मुस्तैदी के चलते बारामुला में आतंकी हमला नाकाम किया जा सका है। जवान बधाई के पात्र हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top