नवरात्र में अनोखी पहल: कन्या भोज के बाद लड़कियों को दी पेंसिल और कॉपी

नवरात्र में अनोखी पहल: कन्या भोज के बाद लड़कियों को दी पेंसिल और कॉपीkanya bhoj in faizabad

रिपोर्ट: सतीश कश्यप

फैजाबाद। तहसील नवाबगंज के कैंट थाना अन्तर्गत सरकारी प्राथमिक विद्यालय अंगूरी बाग की अध्यापिका आरती निषाद ने नवरात्रि के पवित्र दिनों में समाज को एक नया सन्देश देने की एक नई पहल की है। वैसे तो ये काम अक्सर वो निःसहाय बच्चों के साथ करती रहती हैं, लेकिन नवरात्रि के पवित्र दिनों की अष्टमी और नवमी को कराये जाने वाले कन्या भोज में उनको दान दक्षिणा में पढ़ाई-लिखाई से जरूरतमंद कॉपी, पेन्सिल, रबर और कटर के साथ-साथ उन्हें पढ़ाई लिखाई की सामग्री वितरण किया है।

बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ पर करोड़ों खर्च कर रही सरकार

सरकार एक तरफ बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का नारा देकर इसके प्रचार प्रसार पर करोड़ों रूपये खर्च करती है, लेकिन फैजाबाद कैंट थाना अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय अंगूरी बाग में पढ़ाने वाली आरती निषाद ने कन्या भोज के दौरान छोटी-छोटी बच्चियों के अलावा गरीब बच्चों को भोजन कराने के बाद दान दक्षिणा में रूपये पैसे न देकर पढ़ाई-लिखाई की सामग्री बांटी है। इनमें बच्चों को पेन्सिल, रबर, कॉपी, कटर के साथ ही पढ़ाई-लिखाई की किताबें भी दी हैं।

इन बच्चों को मिला अनूठा उपहार


kanya bhoj in faizabad

कन्या भोज के दौरान छोटी कन्याएं कल्याणी, संगीता, शैली, आराध्या, निशा, संगीता, आनंदी, नेहा, उपासना, प्रिया, मोहिनी, ऐंजल, कोमल, अंशिका और प्रिया निषाद के साथ-साथ लंगूर बने आनंद दास, संदीप, सुभाष, सुबोध दास को कलम पेन्सिल कॉपी और रबर जैसी छोटी-छोटी जरुरतमंद पढ़ाई से जुड़ी सामग्री देकर उन्होंने समाज को एक नया सन्देश भी देने की कोशिश की है।

kanya bhoj in faizabad

नहीं मिल पाती है नौकरियां

बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि वो ये समाज के लिए प्रेरणादायी कार्य करती रहती हैं। 32 वर्षीय आरती निषाद बताती हैं कि आज न जाने कितने बेरोजगार नौकरी की तलाश में रहते हैं, फिर भी नौकरियां नहीं मिलती। वो कहती हैं उनकी हमेशा कोशिश रहती है कि गरीब बच्चों को शिक्षित कर उनके भविष्य को कुछ सुधारें।

Share it
Top