मेक्सिको के पटाखा बाजार में विस्फोट से 29 लोगों की मौत, 70 घायल 

मेक्सिको के पटाखा बाजार में विस्फोट से 29 लोगों की मौत, 70 घायल विस्फोट होने से कम से कम 29 लोगों की मौत हो गई और 70 लोग घायल हो गए।

मेक्सिको (एएफपी)। मेक्सिको के सबसे बड़े पटाखा बाजार में भीषण विस्फोट होने से कम से कम 29 लोगों की मौत हो गई और 70 लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि टुल्टेपेक में लगी आग से कल एक के बाद एक कई विस्फोट हुए और मेक्सिको सिटी में धुएं का गुबार छा गया।

विस्फोट के समय बाजार में बड़ी संख्या में ग्राहक थे जो वर्षांत का पारंपरिक जश्न मनाने के लिए पटाखे खरीद रहे थे। कई लातिन अमेरिकी देशों में क्रिसमस और नववर्ष समारोहों के दौरान अक्सर पटाखों से संबंधित हादसे होते हैं।

मेक्सिको स्टेट के गवर्नर एरवील अलिवा ने कहा, ‘‘हमें घटनास्थल पर 26 शव मिले। तीन लोगों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया और इसके साथ ही मरने वालों की कुल संख्या 29 हो गई।'' संघीय पुलिस ने ट्विटर पर बताया कि 70 लोग घायल हुए हैं और उन्हें आपात चिकित्सा कक्षों में ले जाया जा रहा है। दमकलकर्मी तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा सके।

नागरिक सुरक्षा सेवा के प्रमुख लुइस फेलिपे प्युएंते ने कहा कि दमकलकर्मियों को आग बुझाने से पहले सभी पटाखों में विस्फोट रुकने का इंतजार करना पड़ा।

प्युएंते ने कहा, ‘‘पूरा बाजार ही नष्ट हो गया है।'' उन्होंने कहा कि कई घायलों की ‘स्थिति नाजुक' है। हताहत हुए और लोगों को खोजने के लिए तलाश अभियान जारी है।

निकट के स्थानों पर भी मकान और वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। कुछ इलाकों में अधिकारी खाक हो चुकीं या टूटी छतों के मलबे के ढेर में जीवित बचे लोगों की तलाश कर रहे हैं। लोग अपने परिजनों एवं मित्रों की तलाश कर रहे हैं और बचाकर्मियों को इशारा करके बता रहे हैं कि लापता हुए उनके प्रियजन के कहां मिलने की उम्मीद है।

बचावकर्मियों ने जिन लोगों को बचाया है, उनमें से अधिकतर गंभीर रुप से झुलस गए हैं और कई लोगों का पूरा शरीर ही झुलस गया है। सेना को आपात कर्मियों की मदद से लिए तैनात किया गया है ताकि हताहत लोगों को एंबुलेंस एवं हेलीकॉप्टर की मदद से अस्पताल ले जाया जा सके। घटनास्थल पर एंबुलेंस, दमकल वाहनों, पुलिस वाहनों एवं सेना के ट्रकों का जमावड़ा है।

मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीतो ने मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है और घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। विस्फोट के कारण की अभी जांच हो रही है। कुछ ने आशंका जताई है कि संभवत: बारुद या पटाखे संबंधी अन्य तत्वों का सही से इस्तेमाल नहीं करने के कारण विस्फोट हुए हैं।

स्वतंत्रता दिवस की छुट्टी से पहले लगे एक अन्य पटाखा बाजार में 15 सितंबर 2005 को हुए विस्फोट का यही कारण था। वह बाजार पूरी तरह नष्ट हो गया था।

Share it
Top